04kk1मुंबई,  तमाम अटकलों और विरोधाभासों के एक लंबे दौर के बाद आखिरकार रविवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को उसका नया उत्तराधिकारी मिल गया और शशांक मनोहर को दूसरी बार निर्विरोध बोर्ड प्रमुख चुन लिया गया जो इस पद पर वर्ष 2017 तक रहेंगे.

जगमोहन डालमिया के गत माह निधन के कारण खाली हुये पद पर मनोहर को एक बार फिर सर्वसम्मति से चुन लिया गया. बोर्ड की यहां हुई विशेष आम बैठक में मनोहर के नाम पर मुहर लगाई गई. मनोहर एक मशहूर वकील हैं जो शरद पवार के बाद वर्ष 2008-09 से 2011 तक बीसीसीआई के 29वें अध्यक्ष रहे थे.

इस पद पर उनका यह दूसरा कार्यकाल है और वह 2017 तक इस पद पर बने रहेंगे. बीसीसीआई ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर इसकी जानकारी देते हुये लिखा कि श्री शशांक मनोहर को बीसीसीआई का अध्यक्ष चुन लिया गया है. बोर्ड प्रमुख पद पर नामांकन भरने की अंतिम तारीख रविवार तीन बजे की थी और दावेदारों के रूप में अकेले मनोहर का ही नामांकन हुआ था इसलिये उनके अध्यक्ष बनने की घोषणा औपचारिकता मात्र थी.

इस पद पर चुनाव करने की बारी पूर्वी क्षेत्र की थी और मनोहर को सभी छह पूर्व क्षेत्र क्रिकेट संघों ने निर्विरोध अध्यक्ष पद के लिये चुना. बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) के प्रमुख सौरभ गांगुली, त्रिपुरा से सौरभ दासगुप्ता, असम के गौतम राय, ओडिशा से आर्शीवाद बेहरा तथा झारखंड क्रिकेट संघ से संजय सिंह ने मनोहर के नाम को बीसीसीआई अध्यक्ष पद के लिये प्रस्तावित किया.

Related Posts: