IMG-20150720-WA0002सोमवार. 20 जुलाई. प्रदेश के कई शहरों में बारिश और बाढ़ ने रिकॉर्ड तोड़ दिया है. उज्जैन से लेकर होशंगाबाद और विदिशा तक में घरों में पानी घुस गया. लगातार बरसात से किनारा तोड़कर शिप्रा नदी जहां एक ओर कहर ढाह रही है, वहीं अब तक तेज बारिश के कारण बहकर 8 लोगों के जान जाने की खबर है. मौसम विभाग ने अगले दो दिन के लिए सख्त चेतावनी जारी की है. पिछले 48 घंटे से जारी बारिश का प्रकोप बढऩे के बीच सीहोर जिले के बुदनी में बरसाती नाले में पानी बढऩे से 13 लोग बह गए हैं.

बताया जाता है कि सभी लोग तीन परिवारों से संबंध रखते हैं. इनमें से 8 लोगों के शव को बरामद किया गया है. इनमें 7 शव बच्चों के हैं, जिनकी उम्र 14 साल से कम बताई जा रही है. सीहोर में ही रविवार को एक बच्चा उफनते नाले में बह गया था, जिसका शव सोमवार को बरामद किया गया. प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि नाले से बरामद शव की शिनाख्त तीन साल के विशाल के रूप में हुई है.

आज भी होगी बारिश
मौसम विभाग के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम की वजह से मप्र में बारिश हो रही है। यह सिस्टम काफी मजबूत है, सोमवार और मंगलवार को भी राज्य में बारिश का सिलसिला जारी रहने की संभावना है। मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि अगले चौबीस घंटों में भोपाल, उज्जैन, नीमच और मंदसौर जिलों में भारी वर्षा हो सकती है।

सोयाबीन का क्या होगा
रिकॉर्डतोड़ बारिश से सोयाबीन की मुरझा रही फसल को जीवनदान मिल गया है। जून महीने की शुरुआत में बारिश के बाद किसानों ने उज्जैन जिले में करीब साढ़े चार लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सोयाबीन की बोवनी कर दी थी। आठ इंच तक बढ़ चुके पौधे मुरझा रहे थे। बारिश से पौधों को जीवनदान तो मिला है, लेकिन खेतों में पानी भरने से पौधों के पीला पड़कर सडऩे का खतरा भी बना हुआ है।

हाईवे जाम
भोपाल-इंदौर रोड स्थित कोठरी के पास नाला उफान पर होने के कारण आष्टा और सीहोर तरफ तीन तीन किलोमीटर का जाम लग गया. रेहटी-भोपाल, बुदनी-भोपाल और शाहगंज-भोपाल रोड पर भी यातायात बंद हो गया है. नसरुल्लागंज और इछावर के दौलतपुरा में बस्तियां पानी में डूब गई हैं.

भोपाल-इंदौर के बीच नाले पर पानी भरने से यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. इंदौर से भोपाल जाने वाली कई बसें कैंसल कर दी गईं. सीहोर में तेज बारिश की वजह कई गांवों से सड़क संपर्क भी टूट गया है.

Related Posts:

प्रदेश में हों समुचित पेयजल के प्रबंध
पानी ही पानी, नदी-नाले उफने
अजीज से हुई पठानकोट पर बात 27 को आएगी पाकिस्तन टीम
मंडीदीप को भोपाल की तरह सुन्दर बनाया जाएगा : शिवराज
ग्राम गादेर में डायरिया से दो की मौत, कुएं का दूषित पानी पी रहे हैं ग्रामीण
ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट पर मप्र कांग्रेस शुरू करेगी 'ढोल की पोल' आंदोलन