trainनई दिल्ली,  रेलवे ने सूखे एवं पानी की किल्लत झेल रहे बुन्देलखंड के लिए भी पानी के टैंकरों वाली ट्रेन भेजने का निर्णय लिया है और उत्तर प्रदेश के महोबा में पहली गाड़ी छह मई को सुबह पहुँचेगी.

रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा की पहल पर यह गाड़ी राजस्थान के कोटा से बाणसागर बांध से पानी लेकर जाएगी. सिन्हा ने हमीरपुर-महोबा के सांसद पुष्पेन्द्र सिंह चंदेल से सलाह करके रेलवे बोर्ड के अधिकारियों को महोबा में पानी भेजने के आज निर्देश दिये.

कोटा से यह गाड़ी पांच मई की शाम को रवाना होगी और बीना, झांसी होते हुए सुबह अगले दिन महोबा पहुँचेगी. बुन्देलखंड में उत्तर प्रदेश के बांदा, चित्रकूट, महोबा, ललितपुर और झांसी तथा मध्यप्रदेश के टीकमगढ़, पन्ना, छतरपुर, दमोह एवं सागर जिले में पानी का संकट ज्यादा है. इन जिलों में अंधाधुंध पत्थर खनन से भूजल स्तर में गिरावट आयी है. अनेक गांवों में पशुओं के लिए पानी एवं चारा भी उपलब्ध नहीं है. रेलवे ने महाराष्ट्र के लातूर में पानी के संकट को देखते हुए वहां पानी भर कर अनेक गाडिय़ां भेजीं हैं, जिससे स्थानीय लोगों को बहुत राहत मिली है.

Related Posts: