नयी दिल्ली,  केन्द्रीय महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने लैंगिक भेदभाव की चुुनाैती का सामना करने का आह्वान करते हुए आज कहा कि बेटियों ने यह साबित कर दिया है कि वे बेटों से किसी भी तरह से कम नहीं है।

श्रीमती गांधी ने यहां राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में कहा कि थल- जल और नभ में बेटियों ने अपना परचम लहराया है अौर हर उस कार्य में बेटियों ने अपने कदमों की धमक दी है जो अभी तक बेटों के लिए आरक्षित समझे जाते थे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी राष्ट्रीय बालिका दिवस पर देश वासियों को बधाई दी है। श्री मोदी ने यहां जारी एक संदेश में कहा , “ राष्ट्रीय बालिका दिवस बालिकाओं द्वारा असाधारण उपलब्धियां हासिल करने का उत्सव मनाने का दिन है। इन बालिकाओं की उत्कृष्टता से हम गर्वित हैं।”

श्रीमती गांधी ने कहा कि बीता साल बेटियों के लिए उपलब्धि से भरा रहा है। बेटियों वायुसेना में लडाकू विमानों के चालक के रुप में जोरदार ढंग से प्रवेश किया तो खेलों में शीर्ष आेलंपिक में भी इनका बाेल बाला रहा। वर्ष 2016 भारत के लिए गर्व का वर्ष रहा है। इस वर्ष ओलंपिक और पैरा ओलंपिक में लड़कियों का शानदार प्रदर्शन रहा और भारतीय सेना में बेटियां पहली बार लड़ाकू पायलट के रूप में शामिल की गईं। इस अवसर पर महिला और बाल विकास राज्य मंत्री कृष्णा राज भी मौजूद थी।

Related Posts: