axis_van1नयी दिल्ली,  दिल्ली पुलिस ने साढ़े 22करोड़ रुपये की भारी भरकम रकम लेकर चंपत हुए वाहन चालक को 24 घंटे के अंदर धर दबोचा है। उसके पास से लूट के कुछ रुपये बरामद हुए हैं। बाकी की रकम के बारे में पूछताछ की जा रही है। इतनी बड़ी रकम लूटे जाने की वारदात दिल्ली में इससे पहले कभी नहीं हुयी। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि आरोपी वाहन चालक प्रदीप शुक्ला को लूट की वारदात के कुछ घंटे बीत जाने के बाद ओखला औद्योगिक क्षेत्र में उस वेयर हाऊस के पास से गिरफ्तार किया गया ,जहां लूट की घटना के बाद कैश वैन लावारिस हालत में खड़ी मिली थी।

लूट की वारदात के बाद दिल्ली पुलिस की पांच विशेष टीम ,जिसमें अपराध शाखा की भी टीम शामिल थी वाहन और चालक की तलाश में जुट गयी थी। शहर के सभी मुख्य प्रवेश मार्गों पर चेक प्वाइंट बनाए गए और वारदात स्थल के आसपास के इलाकों में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज की जांच की गयी साथ ही स्थानीय लोगों से पूछताछ भी कयी गयी। तलाशी के दौरान कुछ ही घंटो में पुलिस को कैश वैन उस स्थान पर लावारिस हालत में मिल गयी , जहां पर वैन सवार सुरक्षाकर्मी शौच जाने के लिए उतरा था। लेकिन पुलिस को वैन से रुपए बरामद नहीं हुए । लिहाजा आसपास के इलाके में तलाश शुरू की गयी और तभी पास के वेयर हाउस से वैन चालक को धर दबोचा गया। लूट की यह घटना कल दक्षिण पूर्व दिल्ली में उस समय हुई ,जब 22.5 करोड़ रुपये की रकम एक कैश वैन के जरिए इलाके में स्थित एक्सिस बैंक में जमा कराने ले जाई जा रही थी।

गोविंदपुरी मेट्रो स्टेशन के समीप वाहन सवार सुरक्षाकर्मी विनय पटेल ने चालक प्रदीप से कहा कि उसेे शौच के लिए जाना है इसीलिए वह वाहन को रोक दे। प्रदीप ने तब कहा कि वह तब तक यू.टर्न लेकर आता है, जिससे ट्रैफिक जाम का सामना नहीं करना पड़े। सुरक्षाकर्मी जब शौचालय से बाहर आया तो उसने देखा कि वाहन चालक नहीं लौटा है। करीब 10.15 मिनट प्रतीक्षा करने के बाद उसे चालक के भाग जाने की आशंका हुई।

उसने तत्काल बैंक अधिकारियों को घटना की जानकारी दी , जहां से पुलिस को इसके बारे में सूचित किया गया। चालक के खिलाफ लूट का मामला दर्ज कर लिया गया और बाकी की रकम के बारे में उससे गहन पूछताछ की जा रही है। दिल्ली में इससे पहले बडी रकम लूटे जाने की एक ऐसी एक वारदात जनवरी 2014 में मूलचंद फ्लाईओवर के समीप बीआारटी काॅरिडोर में हुयी थी जहां कुछ बदमाशों ने एक व्यवसायी से बंदूक की नोक पर सात करोड़ 69 लाख रुपये लूट लिये थे।