भोपाल स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड को कलेक्टर ने दिए निर्देश

  • बिना हेलमेट और ट्रैफिक नियम तोडऩे वालों के घर पहुंचेगा ई-चालान
  • वूमन सेफ्टी के लिए टेक्नॉलॉजी और डार्क स्पॉट्स पर स्मार्ट लाइट लगाएगी कंपनी

भोपाल स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन लिमिटेड के पेन सिटी मॉडल के तहत इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम का शहर में ड्राय रन 10 दिसंबर से शुुरू हो जाएगा. पहले चरण में ड्राय रन बोर्ड ऑफिस चौराहा व रोशनपुरा चौराहा तक किया जाएगा. इससे ट्रैफिक नियम तोडऩे वालों की पहचान आसानी से की जा सकेगी.

व्यवस्था पूरी तरह षुरू होने पर नियम तोडऩे वालों के घर ई-चालान पहुंचने लगेंगे. बोर्ड ऑफिस चौराहा से रोशनपुरा तक आईटीएमएस 15 दिन में तैयार इसे पुलिस को सौंपने के निर्देश कलेक्टर व बीएससीडीसीएल के चेयरमेन डॉ सुदाम खाडे ने अधिकारियों को दिए हैं.

वह गुरुवार को स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन लिमिटेड के दफ्तर में आईटीएमएस के काम की प्रगति और महिला सुरक्षा के लिए स्मार्ट सिटी कंपनी द्वारा किए जा रहे प्रयासों की समीक्षा बैठक ले कर रहे थे. इस मौके पर डीआईजी संतोष कुमार सिंह, बीएससीडीसीएल के सीईओ चंद्रमौलि शुक्ला, बस व मैजिक ऑपरेटर आदि मौजूद थे.

इसमें बताया गया कि आईटीएमएस के तहत 22 चौराहों पर कैमरे और अन्य उपकरण लगाने का काम किया जाना है. इसमें से 16 चौराहों पर कैमरे और उपकरण लगा दिए गए हैं. भोपाल आईटीएमएस का काम टैक्नोसिस कर रही है.

इस पर कलेक्टर खाडे ने कहा कि अगले 15 दिनों में बोर्ड ऑफिस से रोशनपुरा चौराहा तक आईटीएमएस का काम पूर कर व्यवस्था ड्राय रन के लिए पुलिस को सौंप दी जाए. 10 दिसबंर से पुलिस आईटीएमएस का ट्रायल शुुरू कर देगी.

स्कूल बसों पर लगाना होगा बस मालिक का नाम

इसके साथ ही कलेक्टर खाडे ने कहा कि स्कूल बसों, बीसीएलएल की बसों और अनुबंधित बसों पर बस मालिक का नाम, मोबइल नंबर, हेल्प लाइन नंबर लिखना और यनिफार्म पहनना अनिवार्य होगा. ऐसा नहीं करने वालो के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने कहा कि तेज गति से वाहन चलाते हुए मोबाइल पर बात करने वालों, बसों में सीसी टीवी, ड्रायवर व कंडेक्टर के पहचान पत्र की जांच के साथ ही हर 15 दिन में ड्रायवर व कंडेक्टर के साथ चर्चा कर यात्रियों के प्रति उनके व्यवहार का पता लगाना.

नियमों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ चालानी कार्रवाई, वाहन जब्त करना, परमिट व ड्राइविंग लाइसेंस निरस्त करने जैसी कार्रवाई की जाए. जीपीएस, सीसीटीवी और स्पीड गवर्नर नहीं लगाने वालों के खिलाफ ट्रैफिक पुलिस सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं.

डार्क स्पॉट्स पर लगेंगी स्मार्ट लाइट्स

बैठक में फैसला लिया गया कि महिलाओं और छात्राओं की सुरक्षा के लिए बीएससीडीसीएल डार्क स्पॉट्स पर स्मार्ट लाइट्स लगाएगा. इसके साथ ही कुछ स्थानों पर स्मार्ट पोल से नजर रखी जाएगी. सरक्षा की दृष्टी से शहर में डार्क स्पॉट्स पुलिस ने चिंहित किए हैं.

Related Posts: