अंग्रेजों के खिलाफ होने वाली सीरीज के लिए टीम इंडिया का एलान

चेन्नई, 29 सितंबर. इंग्लैंड के खिलाफ 14 अक्टूबर से शुरू होने वाली घरेलू वनडे सीरीज के पहले दो मैचों के लिए चयनकर्ताओं ने हरभजन सिंह पर भरोसा नहीं दिखाया है. जबकि राहुल शर्मा और एस अरविंद के रूप में दो नए चेहरे चुने हैं. अरविंद कर्नाटका के मध्यम गति के तेज गेंदबाज हैं. जबकि राहुल शर्मा पंजाब के लिए लेग स्पिनर के तौर पर खेलते हैं.

वरुण आरोन को एक बार फिर टीम में शामिल किया गया है. इंग्लैंड में हुई वनडे टीम में शामिल रहे आरोन को कोई भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला था. इसके अलावा अजिंक्य रहाणे और मनोज तिवारी भी टीम में अपना स्थान सुरक्षित रखने में कामयाब हुए हैं. दक्षिण अफ्रीका टेस्ट सीरीज के बाद से टीम में शामिल नहीं हुए उमेश यादव को भी 15 सदस्यीय टीम में जगह मिली है. सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, जहीर खान, युवराज सिंह, रोहित शर्मा, मुनफ पटेल और ईशांत शर्मा फिटनेस समस्याओं के चलते टीम से बाहर हैं.

जबकि चयनकर्ताओं ने एक बार फिर तेज गेंदबाज आशीष नेहरा की अनदेखी की है. सिर में चोट के कारण इंग्लैंड दौरे पर वनडे सीरीज से बाहर हुए गौतम गंभीर की टीम में वापसी हुई है. बीसीसीआई के नए सचिव संजय जगदाले ने चयन समिति की मैराथन बैठक के बाद टीम की घोषणा की जिसमें विदर्भ के तेज गेंदबाज उमेश यादव और झारखंड के तेज गेंदबाज वरुण आरोन को भी शामिल किया गया है.

महेंद्र सिंह धोनी की अगुआई वाली टीम के अधिकतर गेंदबाज युवा हैं. प्रवीण कुमार गेंदबाजी आक्रमण की अगुवाई करेंगे. राष्ट्रीय चयनकर्ताओं ने पांच तेज गेंदबाजों और तीन स्पिनरों रवींद्र जडेजा, आर अश्विन और राहुल का चयन किया है. इंग्लैंड में वनडे सीरीज के दौरान टीम को कुछ अच्छी शुरुआत देने वाले पार्थिव पटेल और मुंबई के युवा बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे को टीम में बरकरार रखा गया है.

पांच मैचों की सीरीज का पहला मैच 14 अक्टूबर को हैदराबाद में खेला जाएगा. जबकि दूसरे मैच का आयोजन 17 अक्टूबर को दिल्ली में होगा. बाकी तीन मैचों का आयोजन मोहाली 20 अक्टूबर, मुंबई 23 अक्टूबर, और कोलकाता 25 अक्टूबर, में किया जाएगा. इंग्लैंड के खिलाफ एकमात्र टी-20 मैच की मेजबानी भी कोलकाता को सौंपी गई है जो 29 अक्टूबर को खेला जाएगा.

टीम इस प्रकार है:-
महेंद्र सिंह धोनी कप्तान, गौतम गंभीर, पार्थिव पटेल, अजिंक्या रहाणे, विराट कोहली, सुरेश रैना, रवींद्र जडेजा, आर आश्विन, वरुण आरोन, उमेश यादव, विनय कुमार, एस अरविंद, राहुल शर्मा, मनोज तिवारी, प्रवीण कुमार.

धोनी अपने गेंदबाजों से हुए खुश
चेन्नई. केप कोबराज के खिलाफ चैंपियंस लीग के मुख्य दौर की पहली जीत दर्ज करने के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन से काफी खुश दिखाई दिए. इस मुकाबले में चेन्नई ने कोबराज को 145 रनों पर रोक दिया था. धोनी ने चार विकेट से मिली जीत के बाद कहा कि अगर हम हार जाते तो हमारे लिए मुश्किल हो जाता. हमारे गेंदबाजों ने उन्हें 145 रन पर रोककर अच्छा प्रयास किया. गेंदबाजों ने उनके दो विकेट गिरने के बाद इस मौके का फायदा उठाया. हमारे गेंदबाजों ने अच्छा खेल दिखाया. कप्तान ने कहा कि हमारे लिए यह अच्छी जीत रही जिसमें ब्रावो ने पारी के अंत में विशेष पारी खेली. मेरा दिल जोर से धड़क रहा था. अब हमारा ध्यान अगले मैच पर लगा है.

तेज गेंदबाजों की तिकड़ी एल्बी मोर्कल 26 रन देकर दो, डग बोलिंगर 25 रन देकर दो, और ड्वेन ब्रावो 23 रन देकर दो, ने केप कोबराज के बल्लेबाजी लाइनअप को ध्वस्त कर दिया. इन्होंने हर्शल गिब्स जेपी डुमिनी और ओवेस शाह वाले बल्लेबाजी क्रम को ज्यादा मौका नहीं दिए. धोनी ने स्वीकार किया कि बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई ने शुरू में एक रन बटोरने की अहमियत पर ध्यान नहीं दिया. चेन्नई सुपरकिंग्स के इस जीत से दो अंक हो गए हैं और इतने ही अंक केप कोबराज और न्यू साउथ वेल्स के हैं. जबकि मुंबई इंडियंस की टीम दो मैचों में जीत से चार अंक लेकर ग्रुप-ए की तालिका में शीर्ष पर है.

केप कोबराज के कप्तान जस्टिन केंप ने कहा कि चेन्नई के तेज गेंदबाजों ने पुरानी गेंद से अच्छी गेंदबाजी की. केंप ने कहा हमें पारी के अंत में और रन बनाने चाहिए थे लेकिन मुझे लगता है कि चेन्नई के गेंदबाजों ने पुरानी गेंद से अच्छी गेंदबाजी की. उन्होंने अंतिम ओवर में अच्छी गेंदबाजी की. केंप ने आल राउंडर ब्रावो की अंत में समय पर खेली गई पारी की विशेष प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि ब्रावो ने कुछ विशेष किया. हमने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन अंतिम दो ओवर में यह काफी खराब हो गई और उनके बल्लेबाजी लाइनअप काफी बड़ा है. ब्रावो ने कुछ शानदार शाट खेले और हमसे मैच छीन लिया. केप कोबराज के कप्तान ने कहा कि पूर्ण रूप से यह एक अच्छा मैच रहा. हम 18वें ओवर तक मैच में बने हुए थे लेकिन कुछ जगह पर एक दो गलतियों से हम मैच गंवा बैठे.

मैन आफ द मैच ड्वेन ब्रावो ने 25 गेंद में 46 रन की नाबाद पारी खेलकर चेन्नई सुपरकिंग्स को दो गेंद रहते 145 रन का लक्ष्य हासिल करने में मदद की. उन्होंने कहा कि आज हमारे लिए दिन अच्छा था. मैं सिर्फ अपनी क्षमता के अनुसार खेल रहा था. अब मैं अपने क्रिकेट का लुत्फ उठा रहा हूं. उम्मीद है कि टूर्नामेंट के अंत तक यह जारी रहे. ब्रावो ने कहा कि डेल स्टेन ने सिर्फ एक खराब गेंद फेंकी और मैंने यहीं से उसके ऊपर दबाव बना दिया. गेंदबाजी के बारे में पूछे जाने के बारे में उन्होंने कहा कि मैंने नेट पर अपनी गेंदबाजी पर कड़ी मेहनत की है और अपने गेंदबाजी एक्शन में थोड़ा बदलाव भी किया है. मैं अब खुश हूं.

Related Posts: