PFनयी दिल्ली,  कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के दिल्ली (उत्तर) कार्यालय ने बीते वित्त वर्ष में भविष्य निधि के चूककर्ता नियोक्ताओं के खिलाफ कुल 12 प्राथमिकी दर्ज कराई और 06 मामलों में गिरफ्तारी की तथा 569 बैंक खातों पर रोक लगाई है।

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के दिल्ली (उत्तर) के क्षेत्रीय आयुक्त अभय रंजन ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन में वित्त वर्ष 2015-16 की उपलब्धियों की ब्योरा देते हुए बताया कि इस अवधि में 80 प्रतिशत दावों का निपटारा तीन दिन के भीतर कर दिया गया। बीते वर्ष में कार्यालय को कुल 16 हजार 518 शिकायतें प्राप्त हुई और इन सभी का निपटारा 31 मार्च से पहले संतोषप्रद ढंग से कर दिया गया।

उन्हाेंने बताया कि भविष्य निधि जमा को रोकने के लिए कुल 5723 जांच काे पूरा किया गया और 4209.15 लाख रुपए का अाकलन किया गया और 83 प्रतिशत राशि वसूल ली गयी। इसके अलावा चूककर्ताओं के खिलाफ कुल 12 प्राथमिकी दर्ज कराई गयी और 06 लोगों को गिरफ्तार किया गया तथा 569 बैंक खातों पर रोक लगाई गयी।

श्री रंजन ने कहा कि दिल्ली (उत्तर) के कार्यक्षेत्र में कुल 15 हजार 135 नियोक्ता प्रतिष्ठान शामिल हैं। इनमें अंशदाताओं की सदस्यों की संख्या 11 लाख 54 हजार 242 है। दिल्ली में भविष्य निधि संगठन के दो क्षेत्रीय कार्यालय हैं।

Related Posts:

योग जी भरकर जीने की जड़ी-बूटी, इसे कमोडिटी न बनाएं
पाक को सबक सिखाने के लिए इंदिरा जैसी इच्छाशक्ति दिखाएं मोदी
ओवैसी का विधायक सस्पेंड, भारत माता की जय बोलने से किया इनकार
प.बंगाल में आखिरी चरण के चुनाव में 84 प्रतिशत मतदान
मोदी ने की आंध्र प्रदेश में सूखे की स्थिति की समीक्षा
जयललिता ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली