भोपाल,

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर ने आयुक्त नगर पालिक निगम प्रियंका दास, अपर आयुक्त एम.पी. सिंह के साथ भानपुर खंती का अवलोकन किया. निगम आयुक्त दास ने गौर को विश्वास दिलाया कि भानपुर खंती में 1 जनवरी से कचरा डालना पूरी तरह से बंद कर दिया जायेगा.

साथ ही माह जनवरी से ही भानपुर खंती की बायो माइनिंग एवं कैपिंग का कार्य भी प्रारंभ कर दिया जायेगा. आयुक्त दास ने यह भी बताया कि आदमपुर छावनी में 7 एकड़ भूमि पर लैंडफिल साइट का कार्य प्रगति पर है. बाबूलाल गौर ने निगम आयुक्त को हताईखेड़ा पर्यटन स्थल को भी माह जनवरी में प्रारंभ करने के निर्देश दिये.

गौर ने निगम के अधिकारियों के साथ वार्ड 67 की विभिन्न कॉलोनियों जिनमें भावना नगर, राजीव नगर ए-सेक्टर, ख्वाजा नगर, कमला नगर, रजत नगर एवं अर्जुन नगर झुग्गी बस्ती का भी भ्रमण किया. गौर से भावना नगर के रहवासियों ने कॉलोनी के अंदर के मार्ग निर्माण की मांग पर गौर को निगम के अधिकारियों ने बताया कि यह मुख्यमंत्री अधोसंरचना योजना के तहत 29 लाख रुपये की लागत से निर्मित किया जायेगा.

गौर ने रहवासियों की मांग पर राजीव नगर में पार्क में पेवर ब्लॉक लगाने के निर्देश दिये. गौर का प्राईमवे विद्यालय के छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों ने स्वागत किया. इसी प्रकार ख्वाजा नगर के रहवासियों ने मकान के ऊपर से जा रही हाईटेंशन पावर लाइट को हटाने एवं नर्मदा जल कनेक्शन दिये जाने की मांग की, जिस पर गौर ने निगम अधिकारियों एवं विद्युत मंडल के अधिकारियों को समस्या हल करने के निर्देश दिये.

गौर ने कमला नगर में सीवेज का पानी रोड पर बहने पर निगम के अधिकारियों को फटकार लगाते हुये आज ही सीवेज दुरुस्त करवाने के निर्देश दिये. गौर ने इसी प्रकार रजत नगर में पार्क में पाथवे निर्माण किये जाने के निर्देश दिये.

अर्जुन नगर झुग्गी बस्ती के रहवासियों ने गौर से शिकायत की कि इस बस्ती में निगम द्वारा 180 रु. प्रतिमाह की दर से जलदर वसूला जा रहा है जबकि 30 रुपये प्रतिमाह की दर से वसूला जाना चाहिये. गौर ने मौके पर उपस्थित निगम के अधिकारियों को परीक्षण युक्त संगत जलदर लिये जाने हेतु निर्देश दिये.

पूर्व मुख्यमंत्री गौर के साथ भ्रमण में नगर पालिक निगम की आयुक्त प्रियंका दास, अपर आयुक्त एम.पी. ङ्क्षसह, उपायुक्त बी.डी. भूमारकर, एमआईसी सदस्य आशा जैन, पार्षदगण हरिशंकर मिश्रा, तुलसा वर्मा, संजय वर्मा आदि सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे.

 

Related Posts: