नयी दिल्ली, सरकार ने आज कहा कि अरुणाचल प्रदेश राष्ट्र का अभिन्न अंग हैं और राज्य के लोगों के लिए चीन द्वारा नत्थी वीजा जारी किए जाने का मुद्दा ²ढ़ता और मुखरता के साथ सभी द्विपक्षीय मंचों पर उठाया जाता है.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक सवाल के जवाब में कहा कि चीन के शीर्ष अधिकारियों के साथ अरुणाचल प्रदेश के लोगों के लिए नत्थी वीजा जारी करने का मुद्दा मजबूती के साथ उठाया जाता है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चीन के नेतृत्व के साथ सभी मुलाकातों में यह मुद्दा उठाया गया है. इसके अलावा विदेश मंत्री स्तर पर भी यह मुद्दा समय -समय पर उठाया जाता है.

एक अन्य सवाल के जवाब में भारतीय हितों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि तिब्बत के धर्मगुरु दलाई लामा ने कई बार अरुणाचल प्रदेश की यात्रा की है और हाल में ही वह छठी बार तवांग गए थे.

चीन की कंपनियों को सरकारी अनुबंध देने से संबंधित एक पूरक सवाल के उत्तर में उन्होंने कहा कि चीन की कंपनियों को सरकारी अनुबंध नहीं देने की कोई नीति नहीं है. उन्होंने सभापति हामिद अंसारी की ओर मुखातिब होकर कहा कि चीनी की एक कंपनी को अनुबंध नहीं मिलने का सवाल सदन में उठाना दुर्भाग्यपूर्ण हैं.

Related Posts: