spo3हैदराबाद,  शीर्ष खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत की अगुवाई में भारतीय पुरुष टीम ने अपने विजय अभियान को बरकरार रखते हुये एशिया टीम बैडमिंटन चैंपियनशिप में आज इन खेलों की महाशक्ति चीन को 3-2 से हराकर दूसरी जीत दर्ज की लेकिन भारतीय महिला टीम को जापान के हाथों 0-5 की हार का सामना करना पड़ा.

ग्रुप-ए से पहले ही क्वार्टरफाइनल में अपना स्थान सुनिश्चित कर चुके भारत ने चीन को हराकर इस ग्रुप में शीर्ष स्थान हासिल कर लिया. भारत ने कल अपने पहले मुकाबले में सिंगापुर को 5-0 से करारी शिकस्त दी थी. महिला टीम ने भी सिंगापुर को 5-0 से हराया था लेकिन वह जापान से पार नहीं पार सकी.
श्रीकांत ने मुकाबले में पहला एकल जीतकर भारत को बढ़त दिलाई. भारत के लिये अजय जयराम और एच.एस. प्रणय ने दो अन्य एकल मैच भी जीते जबकि युगल मैचों में भारतीय जोडिय़ों को हार का सामना करना पड़ा. श्रीकांत ने होवेईतियान को 33 मिनट में 21-11, 21-17 से हरा दिया.

युगल मैच में मनु अत्री और बी. सुमित रेड्डी की जोड़ी को जुनहुईली और जिहान कियू की जोड़ी ने 32 मिनट में 22-20, 21-11 से हरा दिया. जयराम ने दूसरे एकल मैच में झेंगमिंग वांग को एक घंटे में तीन गेमों के कड़े संघर्ष में 22-20, 15-21, 21-18 से हराया. दूसरे युगल मैच में यिल्व वांग और वेन झांग ने प्रणव चोपड़ा और अक्षय देवालकर को 33 मिनट में 21-10, 21-18 से शिकस्त दी. निर्णायक एकल मैच में प्रणय ने भारत की उम्मीदों पर खरा उतरते हुये यूकी शी को हराकर भारत को जीत दिला दी.

टूर्नामेंट में भारत की शीर्ष खिलाड़ी पीवी सिंधू को जापान की नोजोमी ओकूहारा ने एक घंटे दो मिनट तक चले मुकाबले में 18-21, 21-12, 21-10 से हराया. दूसरे एकल में पीसी तुलसी को सयाका सातो ने 38 मिनट में 24-22, 21-13 से हरा दिया. तीसरे एकल मैच में युई हाशिमोतो ने रुत्विका शिवानी गादे को एक घंटे दो मिनट में 23-25, 21-14, 21-14 से पराजित कर दिया.

युगल मैच में ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी को मिसाकी मत्सुतोमो और अयाका ताकाहाशि ने 31 मिनट में 21-12, 21-18 से हरा दिया. आखिरी युगल मैच में एन सिक्की रेड्डी और सिंधू को शिजुका मत्सुआओ और मामी नाइतो ने 56 मिनट में 18-21, 21-11, 21-16 से हराकर भारतीय टीम का पूरा सफाया कर दिया.

Related Posts: