hilleryन्यूयार्क. अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए डेमोक्रैटिक उम्मीदवारी की होड में उतरीं हिलेरी क्लिंटन ने छोटे ऋण के लिए संगठित प्रयास करने वाली भारतीय महिला उद्यमियों का उदाहरण दिया है और दुनियाभर में महिलाओं के लिए समान वेतनमान, यौन हिंसा के खात्मे एवं उन्हें समान अवसर उपलब्ध कराये जाने का आह्वान किया है.

क्लिंटन ने विश्व में महिलाएं नामक छठे वार्षिक सम्मेलन में वैश्विक दर्शकों से कहा कि पुरुषों एवं महिलाओं को समान रूप से बदलाव का वाहक बनना है तथा सभी के लिए बराबरी वाले विश्व सुनिश्चित करने के लिए जरुरी तरक्की में योगदान करना है. उन्होंने उम्मीद जतायी कि दुनिया ऐसे बदलाव को हासिल करने के पहले से कहीं ज्यादा करीब है. उन्होंने कहा, हमने देखा कि पूरी दुनिया में महिलाए बदलाव की एजेंट, तरक्की की वाहक और शांति कायम करने वाली बनी हैं. हिलेरी क्लिंटन ने कहा, कई महिलाओं को एक ही काम के लिए पुरुषों की तुलना में अब भी कम भुगतान किया जाता है तथा यह अंतर अश्वेत महिलाओं के लिए और भी अधिक है.

Related Posts:

अपनी गरिमा के साथ समझौता नहीं करेगा "पाक"
ईरान से तेल आयात पर अमेरिका खफा
महात्मा गांधी की पड़पोती आरोपी, चोरी और धोखाधड़ी का इल्जाम, कोर्ट में पेश
अमेरिका में गैलेक्सी नोट 7 विमानों में ले जाने पर रोक
बीएसएफ की जवाबी कार्रवाई में करीब 15 पाकिस्तानी रेंजर ढेर : बीएसएफ
भारत और तुर्की के बीच निवेश की अपार संभावनाएं : मोदी