modi1हनोई,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिए वियतनाम को 50 करोड़ अमेरिकी डॉलर का ऋण देने की आज घोषणा की। श्री मोदी ने सॉफ्टवेयर पार्क विकसित करने के लिए वियतनाम को 50 लाख अमेरिकी डॉलर की मदद देने की भी घोषणा की। श्री मोदी ने ये घोषणाएं वियतनाम के प्रधानमंत्री गुयेन शुआन फुक के साथ यहां बैठक के बाद की। दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय,क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर बातचीत हुयी।

भारत और वियतनाम के बीच रक्षा,सूचना प्रौद्योगिकी,अंतरिक्ष,स्वास्थ्य आदि क्षेत्रों में 12 महत्वपूर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर किये गये। श्री मोदी के वियतनाम की यात्रा के दौरान इन समझौतों पर सहमति बनी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि भारत और वियतनाम इन समझौते से आपसी रिश्तों को एक नये मुकाम पर लेे जाएंगे। दोनों देशों ने रक्षा,सूचना प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष और स्वास्थ्य क्षेत्र में सहयोग करने पर जोर दिया ।

वियतनाम की रक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने और वियतनाम में सॉफ्टवेयर पार्क विकसित करने के लिए भारत मदद करेगा। दोनों देशों के बीच आपसी मौजूदा निवेश को बढाये जाने पर जोर दिया गया और साथ ही द्विपक्षीय व्यापार 2020 तक 15 बिलियन डॉलर तक ले जाने पर भी सहमति बनी।

श्री मोदी और वियतनाम के प्रधानमंत्री गुयेन शुआन फुक ने इन समझौतों पर हस्ताक्षर के बाद एक साझा बयान जारी किया। श्री मोदी ने कहा कि दोनों देश क्षेत्रीय चुनौतियों का मिलकर सामना करेंगे। उन्होंने वियतनाम की आर्थिक विकास दर की सराहना करते हुए कहा कि वियतनाम में तेजी से विकास हो रहा है और क्षेत्रीय चुनौतियों का सामना करने के लिए दोनों देश आपस में मिलकर काम करेंगे।

Related Posts: