OECDपेरिस,   आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन (ओईसीडी) ने आज जारी आर्थिक परिदृश्य में वर्ष 2016 और 2017 के लिए जी-20 देशों में भारत की विकास दर सबसे ज्यादा रहने का अनुमान जाहिर किया है।

संगठन ने यहाँ जारी रिपोर्ट में कहा है कि सुस्त वैश्विक विकास के बीच वर्ष 2016 में भारत की विकास दर 7.4 प्रतिशत तथा 2017 में मामूली बढ़कर 7.5 प्रतिशत रहेगी। उसने वर्ष 2015 की भारत की विकास दर भी 7.4 प्रतिशत रहने का अनुमान जाहिर किया है जबकि मंगलवार काे जारी आरंभिक सरकारी आँकड़ों के अनुसार 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष में यह 7.6 प्रतिशत रही है।

ओईसीडी ने चीन की विकास दर 2015 के 6.9 प्रतिशत से घटकर इस साल 6.5 प्रतिशत रहने तथा अगले साल और गिरकर 6.2 प्रतिशत पर आ जाने का अनुमान व्यक्त किया है।

रिपोर्ट में कहा गया है “चीन में अर्थव्यवस्था संतुलन की स्थिति तलाश रही है। विकास दर 2016 में घटकर 6.5 प्रतिशत रह जाने तथा 2017 में कम होकर 6.2 प्रतिशत पर आ जाने का अनुमान है। भारत की विकास दर इस साल और अगले साल 7.5 प्रतिशत के आसपास बनी रहेगी। वहीं, कई उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं में विकास की रफ्तार सुस्त पड़ रही है। रूस और ब्राजील में बड़ी मंदी जारी रहेगी। ब्राजील में विकास इस साल 4.3 प्रतिशत ऋणात्मक तथा अगले साल 1.7 प्रतिशत ऋणात्मक रहने का अनुमान है।”

Related Posts: