एसएटीआई में सरसंघचालक ने दिया संदेश

  • देश में रहने वाले सभी हिन्दू
  • डॉ. हेडगेवार जैसे निस्वार्थी बनें

नवभारत न्यूज विदिशा,

हमारी भाषा, भूषा, भजन, भोजन, भवन, भ्रमण में हिन्दू संस्कृति झलकना चाहिये. भारत को गौरवशाली और फिर से विश्व गुरू बनाने के लिये 5 बिन्दुओं कुटुम्ब प्रबोधन, ग्राम विकास, सामाजिक समरसता, धर्म जागरण और गौ संवर्धन पर कार्य करना होगा.

यह बात शुक्रवार को एसएटीआई में आयोजित संघ कार्यकर्ताओं के मार्गदर्शन कार्यक्रम को संबोधित करते हुये आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत ने कही.

दोपहर करीब 3 बजे कार्यक्रम स्थल पर सरसंघ संचालक मोहन भागवत पहुंचे और कुछ देर पश्चात उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधन की शुरूआत स्वामी विवेकानंद और डॉ. हेडगेवार के चरित्र से की. श्री भागवत ने कहा कि स्वस्वार्थ को छोड़कर और सबको साथ लेकर चलने वाले कार्यकर्ता होना चाहिये. श्री भागवत ने डॉ. हेडगेवार का उदाहरण देते हुये कहा कि डॉ. हेडगेवार की कोई संपत्ति नहीं थी.

उनके जाने के बाद उनका एक कोट, खाने का डिब्बा मिला यह भी उन्हें दूसरों ने दिया था. वहीं जिस घर में वे रहा करते थे, वह बाप-दादाओं का था, ऐसे नि:स्वार्थी थे वे. उन्होंने कहा कि जिनके मन से स्वार्थ जा रहा है, वही संघ कार्यकर्ता हैं.

श्री भागवत ने कहा कि यह सत्य है कि हिन्दुस्तान हिन्दुओं का देश है. यहां के मुसलमान भी हिन्दू हैं. मुसलमानों में ऐसा कहा जाता है कि जनाजे के समय जिस स्थान पर वह रहते हैं, वहां की मिट्टी नहीं पड़ती तब तक उन्हें जन्नत नसीब नहीं होती.

ऐसे में उनके जनाजे में यहां की मिट्टी डाली जाती है. श्री भागवत ने कहा कि देश में रहने वाले ईसाई भी बाहर से नहीं आये हैं, वे भी यहीं के हैं.

 

आगामी विस चुनाव भाजपा के लिए चिन्ता का विषय

कार्यक्रम समापन के बाद कार्यक्रम से प्रदेश के पूर्व वित्तमंत्री राघवजी भाई निकले, जिनसे मीडियाकर्मियों ने जब चर्चा की तो राघवजी का कहना था कि श्री भागवत ने आज संदेश दिया है कि कार्यकर्ता स्वार्थ और भेदभाव रहित होकर काम करें.

उन्होंने कहा कि गुजरात चुनाव के जिस तरह के परिणाम आये हैं, उन्हें देखते हुये मप्र में आगामी विधानसभा चुनाव भाजपा के लिये चिंता का विषय है. इसके लिये भाजपा को अभी से काफी तैयारी करना पड़ेगी, क्योंकि गुजरात में 22 वर्षों से भाजपा की सरकार होने तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह होने के बाद भी गुजरात में भाजपा बाउंड्री पर ही जीती है.

मैं तो संघ का छोटा-सा कार्यकर्ता हूं

सरस्वती शिशु मंदिर केेशवनगर टीलाखेड़ी में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की बैठक में शुक्रवार को भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, प्रदेश प्रभारी सुहास भगत, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान, पूर्व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष प्रभात झा आदि दिग्गज नेता शामिल हुये.

बैठक से बाहर आने पर मीडियाकर्मियों के सवाल कि आपको भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बनाने की हाल ही में चर्चा थी, इस पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि मैं तो संघ का छोटा सा कार्यकर्ता हूं. मुझे यदि झाडू लगाने की जिम्मेदारी भी दी जायेगी तो वह भी करूंगा.

Related Posts: