जल्द ही बनेगी कार्ययोजना,

राजधानी को नंबर 1 बनाने की पहल

भोपाल,

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल को स्वच्छता सर्वेक्षण में देश में नंबर वन लाने और राजधानी की बदनाम छवि को बदलने के लिए नगर निगम भीख मांगने वाले भिखारियों को शहर से बाहर करेगा.

महापौर मेयर आलोक शर्मा का कहना है कि जल्द ही इस पर कार्ययोजना बनाकर इसे आगे बढ़ाएंगे. इसके बाद भोपाल से भिखारियों को मुक्त किया जाए.

महापौर आलोक शर्मा का कहना है कि स्वच्छता सर्वेक्षण में प्रथम आने के लिए हमें कई बिंदुओं पर विचार करना पड़ रहा है. अक्सर देखा गया है कि भोपाल में हर चौक चौराहे पर भिखारियों की संख्या लगातार बढ़ती चली जा रही है.

चौराहों पर छोटे-छोटे बच्चे भी भीख मांगते नजर आते हैं. इसकी वजह से भोपाल की बदनामी हो रही है. इसलिए भीख मांगने वाले भिखारियों को उस जगह से हटाने की तैयारी कर रहे हैं, जिस जगह पर यह लोग भीख मांगते हैं. इसके लिए सामाजिक न्याय विभाग से भी संपर्क करेंगे.

उल्लेखनीय है कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2017 में भोपाल को द्वितीय स्थान प्राप्त हुआ था. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी भोपाल की टीम को प्रथम आने के लिए और अच्छी तैयारी करने के लिए कहा था.

इसे देखते हुए भोपाल नगर निगम कोई कोर-कसर नहीं छोडऩा चाहता है लेकिन भोपाल नगर निगम के लिए सबसे बड़ी मुसीबत सालों से जमे भिखारियों को हटाना है जो इस समय भोपाल में काफी संख्या में हो चुके हैं अब तो भोपाल में छोटे-छोटे बच्चे भी भीख मांगते दिखाई दे जाते हैं.

सुअर मुक्त होंगी कॉलोनी

महापौर ने एक और निर्णय लिया है. भोपाल महापौर का कहना है कि राजधानी भोपाल को सुअरों से भी मुक्त करवाया जाएगा. भोपाल में सुअरों की संख्या भी अत्यधिक मात्रा में हो गई है. उनका कहना है कि ऐसे लोगों से भी बातचीत की जाएगी जो सूअरों को पाल रहे हैं या इनका व्यवसाय कर रहे हैं.

पहले इन्हें समझाए देकर समय दिया जाएगा ताकि वह राजधानी भोपाल से अपने सभी सुअरों को बाहर ले जाए. भोपाल स्वच्छता सर्वेक्षण में प्रथम स्थान हासिल करने के लिए कई कठोर निर्णय लेने के लिए तैयार है.

पूरा विश्वास हम फिर आएंगे नंबर-वन- गौड़

इधर, भोपाल पहुंची इंदौर की महापौर मालिनी गौड ने एक बार फिर पहला स्थान हासिल करने का दावा किया है. उन्होंने कहा कि पहला स्थान हासिल करना कठिन नहीं है, आसान है. हमनें ऐसी व्यवस्था कर दी है, कि सबकुछ बड़े व्यवस्थित ढंग से चल रहा है.

महापौर मालिनी गौड ने कहा कि जिस तरह 2017 में हम नंबर वन आए हैं. 2018 में नंबर वन आएगा, ऐसा हमको पूरा विश्वास है. क्योंकि हमारे यहां सब लोगों ने सहयोग किया है.

Related Posts: