Pranab-Mukherjeeनई दिल्ली, 31 मई. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने विवादास्पद भूमि अध्यादेश को फिर जारी करने की अनुमति दे दी है. हाल में संपन्न संसद के बजट सत्र में इसे कानून में बदला नहीं जा सका था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में शनिवार को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस अध्यादेश को फिर जारी करने का फैसला किया गया था. बैठक में कहा गया था कि निरंतरता बनाए रखने और जिन लोगों की भूमि का अधिग्रहण किया जा रहा है, को मुआवजा प्रदान करने का ढांचा उपलब्ध कराने के लिए यह जरूरी है.