bpl1भोपाल,  राजधानी के एक युवक ने सिर्फ 6 महीने के भीतर एक मिसाइल बना ली है. जो कि लॉन्च भी होती है. डरिये मत, ये मिसाइल ऐसे ही किसी युवक ने बनाई है, बल्कि इसको तैयार किया है एक इंजीनियरिंग स्टूडेंट ने.

शुक्रवार को भेल स्थित दशहरा मैदान में भोपाल विज्ञान मेला—2016 का रंगारंग शुभारंभ हुआ. मप्र विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद, भोपाल विज्ञान भारती, भोपाल द्वारा आयोजित इस मेले में एक से बढ़कर एक मॉडल्स सामने आये हैं. जिसमें सबसे ज्यादा आकर्षित करने वाली रही मुकुल कुमार की मिसाइल. आईईएस कॉलेज के इस स्टूडेंट ने 6 महीने में जो कर दिखाया वह सबको हैरत में डालने वाला था. मुकुल ने टीचर्स की गाईड में दिन—रात मेहनत कर बीई के पहले साल में हीं इसको ग्रेफाइट रॉड, 30आरपीएम के दो मोटर और 3 रिले को मिलाकर तैयाार किया है.

मुकुल ने बताया कि इसके पार्टस को सर्च करना फिर उन पर काम करने में काफी समय लगता है. मुझे पहले से ही इस तरह के काम करने का शौक था. जैसे ही इंजीनियरिंग फिल्ड में आया तो तय कर लिया था की पहले ही साल से कुछ नया करना शुरू कर दूंगा.

इस मौके पर मुख्य अतिथि गृहमंत्री बाबूलाल गौर ने कहा कि हमारा भविष्य उज्जवल है क्योंकि हमारे पास आध्यातम एवं विज्ञान दोनों है. ऐसे आयोजनों से प्रदेश में विज्ञान के प्रति लोगों में रूझान बढ़ेगा तथा विज्ञान के छात्र भी ऐसे आयोजनों से काफी सीखेंगे.

वहीं ब्रम्होस के मुख्य नियंत्रक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुधीर मिश्रा ने कहा कि हमारे यहां प्राचीन काल में जो भी किताबें और वेद लिखे गये है, उनका आधार विज्ञान ही है. पिछले कुछ समय के लिये ये कडियां टूट गई थी. मगर अब ऐसे आयोजनों के द्वारा जोडऩे का कार्य शुरू किया जा रहा है.

वहीं शाम में सांस्कृतिक कार्यक्रम में स्मृति नृत्य संस्थान के सुरेन्द्र राठौर द्वारा दुर्गा सप्तशती डांस बैले की प्रस्तुति दी गई. मेले में हस्तशिल्प, वन संपदा, साइंस एग्जीबिशन और नई विज्ञान तकनीकों को दर्शको ने पसंद करने के साथ कई नई रोचक बातें भी जानी. इस मेले में विशेष रूप से इसरो, कोल इंडिया लिमिटेड, आईएमडी, बीएचईएल और ब्रहमोस ऐरोस्पेस ने भी भाग लिया.

Related Posts:

त्रासदी की बरसी पर सर्वधर्म प्रार्थना सभा का आयोजन आज
नेपाल ने 13 एसएसबी जवानों को बंधक बनाने के बाद किया रिहा
बेकाबू रेत माफिया ने ली वनकर्मी की जान, अवैध रेत से भरा ट्रैक्टर वनकर्मी पर चढ़ा...
कोरियाई प्रायद्वीप पर किसी युद्ध की अनुमति नहीं देगे : जिनपिंग
उत्तराखंड के बागी विधायक उच्चतम न्यायालय पहुंचे
कावेरी विवाद : कर्नाटक में रेल रोको प्रदर्शन