princessपाल्मा,  स्पेन की राजकुमारी क्रिस्टीना और उनके पति के खिलाफ भ्रष्टाचार के एक मामले में मुकदमा चलेगा. चार बच्चों की मां, 50 वर्षीय क्रिस्टीना ने न्यू यॉर्क यूनिवर्सिटी से मास्टर की डिग्री ली है.

स्पेन में साल 1975 में तानाशाह जनरल फ्रांसिस्को फ्रैंको के निधन के बाद राजशाही फिर से बहाल हुई थी. इसके बाद क्रिस्टीना राजवंश की पहली सदस्य हैं जिनके खिलाफ अदालत में आपराधिक आरोप लगाए गए हैं. क्रिस्टीना के अलावा, 17 अन्य लोगों पर भी मुकदमा चलेगा जिनमें उनके पति और पूर्व ओलिंपिक हैंडबॉल खिलाड़ी इनाकी उरदांगरिन भी शामिल हैं. ये लोग स्थानीय समयानुसार सुबह सवा नौ बजे भूमध्यसागरीय द्वीप मलोरका के पाल्मा की अदालत में पेश होंगे. स्पेन के राजवंश के लोग मलोरका में अवकाश मनाने जाते हैं. अदालत परिसर के बाहर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.

वहां बड़ी संख्या में लोग और दुनिया के विभिन्न हिस्सों से आए रिपोर्टर मौजूद हैं. भ्रष्टाचार का यह मामला नूज इन्स्टिट्यूट के कारोबारी सौदों से संबंधित है. नूज इन्स्टिट्यूट पाल्मा में स्थित एक परमार्थ संगठन है जिसकी अध्यक्षता वर्ष 2004 से 2006 तक 47 वर्षीय उरदांगरिन ने की थी. उन पर और उनके पूर्व कारोबारी पार्टनर डिएगो टॉरेस पर नूज इन्स्टिट्यूट को दो क्षेत्रीय सरकारों की ओर से दिए गए 67 लाख डॉलर के सार्वजनिक कोषों की हेराफेरी करने का आरोप है.

Related Posts:

पापीपु ने जरदारी के बयान से अपने आपको किया अलग
सीरिया से स्वदेश पहुंचे रूसी बमवर्षक विमान
अमेरिका राष्ट्रपति के चुनावी दौड़ में ट्रंप और क्रूज ने एक-दूसरे की पत्नियों को ...
भारत-अमेरिका के बीच सैन्य तंत्र के आदान प्रदान पर सहमति
ढाका हमला : शेख हसीना ने की मीडिया की आलोचना
पठानकोट और 26/11 हमले के साजिशकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई करे पाकिस्तान: भारत, अमे...