summerभोपाल,  मध्यप्रदेश के अधिकांश शहर आज तीव्र गर्म हवाओं और लू की चपेट में आ गये तथा राजधानी भोपाल में पिछले पांच वर्ष का रिकार्ड तोड़ते हुए पारा 42.7 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचा।

प्रदेश का सबसे गर्म स्थल 44.8 डिग्री के साथ दूसरे दिन भी पर्यटन नगर खजुराहो रहा। यहां जबदस्त लू का प्रभाव है।

क्षेत्रीय मौसम विज्ञान भोपाल केन्द्र के वैज्ञानिक यू सी सर्वटे ने ‘‘यूनीवार्ता” को बताया कि भोपाल में आज इस मौसम का अब तक का सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। यह सामान्य से तीन डिग्री अधिक है और गर्मी ने यहां गत पांच वर्ष का रिकार्ड तोड़ा है।
शहर में दिन भर तीव्र गर्म हवाओं और लू के थपेड़ों से लोग त्रस्त होते रहे और दोपहर में सड़कों पर आवाजाही कम रही।

प्रदेश के अन्य शहरों नौगांव में 44.5, दमोह में 44.2, रतलाम में 43.6, गुना 43.4, शाजापुर में 43.3, रीवा एवं ग्वालियर में 43.2, सतना 43.1, सागर 42.8, जबलपुर और उज्जैन में 42 डिग्री अधिकतम तापमान दर्ज हुआ। यह विभिन्न स्थानों पर सामान्य से दो से सात डिग्री ज्यादा है।

मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि पिछले चौबीस घंटों में जबलपुर संभाग में कहीं कहीं बूंदाबांदी हुई तथा खजुराहो एवं सतना में लू का प्रभाव रहा।
आगामी 24 घंटों के दौरान चंबल, ग्वालियर, रीवा, शहडोल और उज्जैन संभाग तथा छतरपुर, दमोह, राजगढ़ एवं खरगौन जिलों में लू चलने के साथ सीधी एवं सिंगरौली जिलों में कहीं कहीं गरज चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना है।

Related Posts: