भोपाल , मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश को शांति का टापू निरूपित करते हुए कहा है कि हम सबको यहां का नागरिक होने पर गर्व है।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार श्री चौहान आज यहां मंत्रालय प्रांगण में प्रदेश के स्थापना दिवस कार्यक्रम ‘मध्यप्रदेश उत्सव’ को संबोधित कर रहे थे।उन्होंने शासन-प्रशासन में उत्कृष्ट कार्य करने वाले प्रशासनिक अधिकारियों-कर्मचारियों और प्रदेश का गौरव बढ़ाने वाले खिलाड़ियों को सम्मानित किया।

श्री चौहान ने कहा कि समय-समय पर प्रदेश ने मानवता की सेवा का उत्कृष्ट उदाहरण प्रस्तुत किया है।यहां सभी धर्मों और समुदायों के लोग मिल-जुलकर शांतिपूर्वक रहते हैं।

उन्होंने उपस्थित शासकीय अधिकारियों-कर्मचारियों और नागरिकों को प्रदेश के सर्वांगीण विकास में श्रेष्ठ योगदान देने और समृद्ध मध्यप्रदेश के निर्माण के लिए निरंतर कार्य करने का संकल्प दिलाया।

मुख्यमंत्री ने विकास की चर्चा करते हुए कहा कि विगत एक दशक में प्रदेश ने विकास के हर क्षेत्र में लम्बी छलांग लगाई है।प्रदेश की विकास दर लगातार दो अंकों में बनी हुई है।कृषि विकास दर पिछले पांच साल में औसत 20 प्रतिशत बनी है, जो पूरे विश्व में सबसे ज्यादा है।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता के क्षेत्र में पूरे देश में इंदौर प्रथम और भोपाल दूसरे स्थान पर रहा।किसी समय बीमारू और पिछड़ा कहलाने वाला प्रदेश आज देश का सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाला प्रदेश बन गया है।

प्रदेश के नागरिक और अधिकारी-कर्मचारियों को गर्व करने योग्य बताते हुए उन्होंने मुख्य सचिव को निर्देश दिये कि उत्कृष्ट काम करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को सम्मान देने के लिये प्रत्येक विभाग अपने यहां व्यवस्था बनायें।

Related Posts: