कुआलालंपुर.  मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर के एक धार्मिक विद्यालय में आज तड़के आग लगने के कारण कम से कम 24 लोगों की मौत हो गयी जिनमें ज्यादार छात्र हैं।  अधिकारियों ने आशंका व्यक्त की है कि इलेक्ट्रिक शॉर्ट सर्किट के कारण स्कूल के सबसे ऊपरी मंजिल पर डॉर्मेट्री में आग लगी है जहां पर ज्यादातर छात्रों की मौत हुई है।

मलेशिया दमकल तथा बचाव दल ने एक बयान जारी कर बताया कि यहां दारुल कुरान इत्तिफाकिया बोर्डिंग स्कूल में सुबह पांच बजकर 40 मिनट पर आग लग गयी जिसके कारण कम से कम 24 लोगों की मृत्यु हो गयी। शवों को आसपास के अस्पतालों में ले जाया गया है। बयान में कहा गया है कि तीन मंजिला स्कूल के ऊपरी हिस्से में आग उस समय लगी जब छात्र सो रहे थे। क्वालालंपुर के पुलिस प्रमुख अमर सिंह ने पत्रकारों से कहा कि इस घटना में 22 छात्रों तथा दो वार्डन की मौत हो गयी है।

मारे गये लड़कों की उम्र 13 से 17 साल के बीच है। उन्होंने कहा कि दम घुटने के कारण इन लोगों की मौत हुई है। दमकल तथा बचाव दल के डिप्टी डायरेक्टर सोईमन जाहिद ने स्कूल के बाहर पत्रकारों से कहा कि इमारत में चारों तरफ ग्रिल लगा होने के कारण छात्र वहां से भाग नहीं सके। उन्होंने कहा कि मामले की जांच की जा रही है लेकिन शॉर्ट सर्किट के कारण आग लगने की आशंका व्यक्त की जा रही है।

Related Posts: