sensex Downमुंबई 11 जून. कमजोर मानसून से आर्थिक सुधार उपायों को लागू करने और ब्याज दरों में कटौती में विलंब होने के साथ ही औद्योगिक उत्पादन में सुस्ती और महंगाई बढऩे की आशंका में विदेशी निवेशकों की चौतरफा बिकवाली से आज शेयर बाजार करीब दो प्रतिशत लुढ़ककर आठ महीने के न्यूनतम स्तर पर बंद हुआ।

ब्याज के प्रति संवेदनशील समूह बैंकिंग, रियल्टी, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स और ऑटो के शेयरों में हुई भारी बिकवाली और इनके 2.37 प्रतिशत तक टूटने से बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेकस 469.52 अंक अर्थात 1.75 प्रतिशत की भारी गिरावट लेकर 17 अक्टूबर 2014 के बाद के निचले स्तर 26370.98 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 159.10 अंक यानि 1.96 प्रतिशत टूटकर पिछले साल 27 अक्टूबर के बाद 8000 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे उतरकर 21 अक्टूबर के बाद के न्यूनतम स्तर 7965.35 अंक पर रहा।

Related Posts: