नयी दिल्ली,

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भारत और आसियान को महत्वाकांक्षाओं से भरपूर दुनिया बताते हुये आज कहा कि इन दोनों के बीच व्यापार बढ़ने से न:न सिर्फ ये समृद्ध होंगे बल्कि रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और ये एक दूसरे के मददगार होंगे।

श्री जेटली ने भारतीय उद्योग परिसंघ(सीआईआई) द्वारा वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय और विदेश मंत्रालय के सहयोग से आयोजित दो दिवसीय आसियान भारत बिजनेस एंड इंवेस्टमेंट सम्मेलन एवं एक्सपो के समापन सत्र को संबोधित करते हुये कहा कि आज भारत और आसियान की कहानी एक जैसी है।

जब पूरी दुनिया मंदी के चपेट में थी तो भारत वैश्विक विकास में मदद कर रहा था और उसी के साथ आसियान की वृद्धि दर भी 4.5 से 5 फीसदी रही थी।

Related Posts: