22nn8भोपाल, 22 जून. महापौर आलोक शर्मा ने राजस्व विभाग के कामकाज एवं सम्पत्तिकर, जलकर सहित अन्य करों की वसूली की समीक्षा की. निगम की आय में वृद्घि हेतु करारोपण से छूटी सम्पत्तियों को कर के दायरे में लाने, करारोपित सम्पत्तियों से वास्तविक स्थिति अनुसार कर वसूलने, लाइसेंसों के शुल्क की शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित करने, पार्किंग स्थल एवं तहबाजारी की व्यवस्था को बेहतर कर आय में वृद्घि करने एवं करों की वसूली कार्य में तेजी लाने, निगम की स्वामित्व की सम्पत्तियों का लेखा-जोखा रखने हेतु निगम में सम्पदा विभाग की तत्काल स्थापना कर अर्चना शर्मा को इसका प्रभारी बनाने के निर्देश दिये.

समीक्षा के दौरान अपर आयुक्त जी.पी. माली, महापौर परिषद में राजस्व विभाग के प्रभारी सदस्य शंकर मकोरिया, उपायुक्त प्रदीप वर्मा, उपायुक्त मिश्रा, सहायक आयुक्त अर्चना शर्मा सहित समस्त जोनल अधिकारी व जोन में पदस्थ राजस्व प्रभारी मौजूद थे. महापौर शर्मा ने कहा कि हमारा लक्ष्य निगम की आय में वृद्घि करना है और इसके लिये हमें तीव्र गति से वसूली करना है तथा नई सम्पत्तियों को करों के दायरे में लाना है. शर्मा ने कहा कि शीघ्र ही मल्टीलेवल पार्किंग स्थलों में इलेक्ट्रॉनिक बैरियर लगाये जायेंगे और सेंसर कैमरे लगाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी.

 

Related Posts:

जर्मन कम्पनी से यूनियन कार्बाइड के अपशिष्ठ नष्ट करने संबंधी चर्चा
अमन की दुआओं के साथ सालाना उर्स का हुआ समापन कब्बालो ने बांधा समां
बाज नहीं आ रहीं तंबाकू कंपनियां
गौर ने अनाथ बच्चों के बीच मनाया जन्मदिन
अनूप मिश्रा मंत्री, रंजना, शुक्ला, जैन पदोन्नत
व्यापमं के आरोपियों की मौत को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन