bpl3भोपाल,  नगर पालिक निगम भोपाल द्वारा शहर में संचालित लोक परिवहन सेवा की मॉय बस में यात्रा करने वाले सामान्य नागरिकों के साथ ही नि:शक्तजन, वरिष्ठ नागरिक, विद्यार्थी, अधिमान्य पत्रकार, शासकीय कर्मचारी, नगर पालिक निगम भोपाल एवं अन्य निगम, मंडलों के कर्मचारियों तथा पंजीकृत घरेलू कामकाजी महिलाओं की सुविधा के दृष्टिïगत नगर पालिक निगम भोपाल की परिषद के निर्णय अनुसार महापौर स्मार्ट पास सेवा का शुभारंभ प्रदेश के उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री उमाशंकर गुप्ता एवं महापौर आलोक शर्मा ने आयुक्त तेजस्वी एस. नायक की उपस्थिति में बुधवार को विंध्याचल भवन के समक्ष आयोजित कार्यक्रम में किया.

मंत्रालय से शहर के अन्य क्षेत्रों के लिये मॉय बस की सुविधा उपलब्ध कराने हेतु एसआर-7 मार्ग सेवा की बसों को झंडी दिखाकर रवाना किया तथा स्वयं भी इसमें यात्रा की. महापौर स्मार्ट पास सेवा के शुभारंभ अवसर पर महापौर परिषद के सदस्य कृष्णमोहन सोनी, केवल मिश्रा, सुरेन्द्र बाडीका, शंकर मकोरिया, अपर आयुक्त चन्द्रमौली शुक्ला के अलावा अनेक पार्षदगण, विभिन्न कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारी व गणमान्य नागरिक मौजूद थे.

महापौर स्मार्ट पास के शुभारंभ अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने कहा कि महापौर स्मार्ट पास बनाने के लिये स्कूल-कॉलेजों व कर्मचारी बाहुल्य क्षेत्रों में शिविरों का आयोजन किया जाये और इस व्यवस्था को जोन स्तर पर भी लागू किया जाये. महापौर आलोक शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि नगर सरकार शहर में नागरिकों के लिये बेहतर से बेहतर सुविधायें उपलब्ध कराने के साथ ही शहर को साफ, स्वच्छ, सुन्दर एवं विकसित शहर बनाने हेतु संकल्पित है और इस दिशा में निरंतर कार्य कर रही है.

महापौर स्मार्ट पास सेवा के तहत सामान्य व्यक्तियों के लिये प्रतिमाह व्यक्तियों के लिये प्रतिमाह 800 रुपये की दर निर्धारित की गई है जबकि स्कूल एवं कॉलेज के छात्र-छात्राओं को 75 प्रतिशत की रियायत देकर 200 रुपये तथा राज्य शासन, नगर निगम भोपाल तथा अन्य निगम-मंडलों, उपक्रमों में कार्यरत्ï कर्मचारियों, वरिष्ठï नागरिकों, पत्रकारों एवं शासन की योजनांतर्गत चिन्हित एवं परिचय पत्र धारक घरेलू कामकाजी महिलाओं को 50-50 प्रतिशत की रियायत के साथ मात्र 400 रुपये में महापौर स्मार्ट पास जारी किया जायेगा.

Related Posts: