नयी दिल्ली,  ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफार्म अमेजन इंडिया ने महिला उद्यमियों के सशक्तिकरण की दिशा में एक अनूठी पहल करते हुए उनके उत्पादों को शून्य प्रारंभिक लागत पर वैश्विक मंच प्रदान करने के लिए नागालैंड सरकार और राष्ट्रीय कौशल विकास निगम(एनएसडीसी) के साथ हाथ मिलाया है।

अमेजन इंडिया ने आज इस समझाैता की घोषणा करते हुए कहा कि इसके तहत नागालैंड की महिला उद्यमियों को ऑनलाइन बिक्री के प्रति जागरुक करने और इस तरह की बिक्री में सफलता प्राप्त करने के लिए जरूरी कौशल तथा क्षमता विकसित करने के उद्देश्य से प्रशिक्षण एवं कौशल विकास वर्कशॉप आयोजित किये जायेंगे।

इस पहल का उद्देश्य नागालैंड के कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देना है । इसके तहत महिला उद्यमियों को अमेजन डॉट इन पर अपना ‘ई-शॉप’ खाेल सकती हैं। अमेजन इंडिया का लक्ष्य नागालैंड के कुटीर उद्योग को ऑनलाइन मंच प्रदान करना है ताकि उपभोक्ता सीधे वहीं से मेटलवर्क, वूडवर्क, स्टोनवर्क, पाॅटरी और बास्केटरी के उत्पाद खरीद सकें। राज्य सरकार भी साबुन और मोमबत्ती निर्माण और मधुमक्खी पालन को बढावा दे रही है ।

नागालैंड के मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव तेमजिन जॉय ने इस समझौते पर कहा,“ डिजिटल कारोबार ने आज की दुनिया में भौगोलिक सीमाओं को खत्म करके देश के कोने -कोने में रहने वाले भारतीयों तक देश के अन्य हिस्सों में बन रहे उत्पाद की पहुंच बना दी है। ”

Related Posts: