03छतरपुर 21 अप्रैल। जनपद पंचायत राजनगर की स्थाई समितियों का चुनाव अवकाश के दिन बगैर जनपद सदस्यों को सूचना दिए गुपचुप तरीके से हो रहा था।

मनमाने ढंग से हो रहे समितियों के गठन का जब महिला जनपद सदस्यों को पता चला तो वह जनपद कार्यालय पहुंची एवं चुनाव का बहिस्कार करते हुए लिखित आपत्ति दर्ज कराई एवं चुनाव पर रोक लगाने की मांग की। महिला जनपद सदस्यों एवं भाजपा नेताओं ने कहा कि अगर चुनाव पर रोक नहीं लगती है तो 25 तारीख को खजुराहो आ रहे मुख्यमंत्री के समक्ष एसडीएम राजनगर की शिकायत कर उनको हटाने की मांग की जाएगी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार एसडीएम राजनगर रविंद्र चौकसे द्वारा अक्षय तृतीया अवकाश के दिन जनपद समितियों के चुनाव की तारीख रखी। समितियों का गठन गुपचुप तरीके से कुछ जनपद सदस्यों को साथ लेकर जनपद कार्यालय में किया जा रहा था। जब महिला जनपद सदस्यों को समितियों के गठन होने की सूचना मिली तो वह जनपद कार्यालय पहुंची और उन्होंने मनमाने ढंग से गुपचुप तरीके से हो रहे समितियों के चुनाव का विरोध जताते हुए बहिस्कार किया एवं चुनाव पर रोक लगाने हेतु एक लिखित शिकायत भी एसडीएम को दी। महिला जनपद सदस्यों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए एसडीएम राजनगर ने जनपद सदस्य बेबी प्रजापति से अभद्रता करते हुए कमरे से बाहर निकाल दिया। सूचना लगते ही भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ. घासीराम पटेल, भाजपा जिला मंत्री गोविंद सिंह टुरया, भाजपा नेता हरनारायण अवस्थी सहित अनेक लोग मौके पर पहुंचे एवं मनमाने ढंग से हो रहे चुनाव पर रोक लगाने की मांग की। वहीं भाजपा नेता गोविंद सिंह टुरया ने कहा कि एसडीएम राजनगर द्वारा किए जा रहे अवैधानिक समितियों के गठन पर अगर रोक नहीं लगाई गई तो इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से 25 तारीख को खजुराहो में की जाएगी।

Related Posts:

लकड़ी तस्करों ने जंगल से उड़ाए सैकड़ों पेड़
राजधानी में दूसरे दिन भी रहा बंद
प्रदेश में जन्मे हर व्यक्ति का हो अपना घर
उपचुनावों में भाजपा की जीत के लिए जुटा है पूरा प्रशासन : दिग्विजय सिंह
मेला क्षेत्र में प्याऊ और छाया का इंतजाम करें : प्रभारी मंत्री
गुना में बिजली गिरने से एक की मौत, मप्र में कई स्थानों पर आंधी-तूफान