• 5-10 मिनट बाद ही बच्चे ने दम तोड़ा
  • खबर मिलते ही देखने वालों का लगा तांता

नवभारत न्यूज शिवपुरी,

मायापुर के पास स्थित ग्राम गिलोंधरा में आज सुबह एक आदिवासी महिला ने दो मुंहे बच्चे को जन्म दिया है। जिसकी जानकारी लगते ही क्षेत्र के आसपास के लोग उसे देखने के लिए पहुंचे.

जहां लोगों ने तरह तरह के कयास लगाए जा रहे हैं वहीं लोग अंधविश्वास में पडक़र बच्चे को ब्रह्माजी का अवतार बता रहे हैं। जिससे गांव में बड़ी संख्या में लोगों का एकत्रित होना शुरू हो गया है। जन्म लेने के 10-5 मिनट बाद ही बच्चे ने दम तोड़ दिया।

ग्राम गिलोंधरा में रहने वाली देवकुमारी पत्नि राकेश आदिवासी को आज सुबह 5 बजे प्रसव पीड़ा हुई और उसने घर पर ही एक बच्चे को जन्म दिया, लेकिन बच्चे के दो सिर होने के चलते परिवारजन आश्चर्यचकित हो गए और उन्होंने तुरंत ही अपने आस पड़ोस के लोगों को दो मुंह वाला बच्चा पैदा होने की जानकारी दी और सुबह होते होते यह सूचना पूरे गांव सहित आसपास के क्षेत्र में तेजी से फैल गई राकेश के घर पर बच्चे को देखने वालों का तांता लग गया।

Related Posts: