08nn5भोपाल, 8 मार्च. यदि महिला अपने जीवन में चरित्रों की धारण करे और मूल्यों को अपने जीवन में अपनाए तो यही सच्चे अर्थों में महिला का सशक्तिकरण है और ऐसे गुणों एवं शक्तियों से सम्पन्न महिला ही विश्व परिवर्तन का आधार बन जाती है.

महिला की योग्यता इस बात में नहीं कि उसने क्या प्राप्त किया बल्कि इस बात में है कि उसके कार्य समाज एवं विश्व के लिये कितने उपयोगी हैं. आज आवश्यकता है कि समाज का हर वर्ग नारी का सम्मान करे एवं नारी भी नारी का सम्मान करे. उक्त विचार प्रजापिता ब्रह्मïाकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय गुलमोहर भोपाल सेवाकेंद्र प्रभारी बी.के. रीना बहन ने ब्रह्मïाकुमारीज रोहित नगर भोपाल में अंतर्राष्टï्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिलाओं के सम्मान के अवसर पर व्यक्त किये.

इस अवसर पर संस्था द्वारा भोपाल के अनेक क्षेत्रों में उत्कृष्टï कार्य कर रही महिलाओं का सम्मान भी किया गया. इस अवसर पर संध्या शर्मा निरीक्षक क्राइम ब्रांच, डॉ. प्रमिला मैनी पूर्व उप सचिव उच्च शिक्षा विभाग, नीता भार्गव अध्यक्षा लायनेस क्लब, किरण मेहता, डॉ. आशा विजयवर्गीय, उमा शर्मा, मधु गर्ग प्रांतीय महिला अध्यक्षा मध्यप्रदेश अग्रवाल महिला महासभा, डॉ. अपर्णा एलिया, कु. शबाना, बी.के. मणि बहन ने अपने विचार व्यक्त किया. कार्यक्रम में अनेक गणमान्य नागरिक उपस्थित थे.

बैठक हुई
अंतर्राष्टï्रीय महिला दिवस के अवसर पर आज म.प्र. कर्मचारी कांग्रेस के प्रांतीय कार्यालय में महिला एवं बाल विकास विभाग के अंतर्गत कार्यरत्ï महिला आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिकाओं की बैठक संगठन के प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र खोंगल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई. बैठक को सम्बोधित करते हुये खोंगल ने राज्य शासन से प्रदेश की 75 हजार आंगनवाडिय़ों में कार्यरत्ï डेढ़ लाख महिला कार्यकर्ता एवं सहायिकाओं को श्रमायुक्त द्वारा निर्धारित पारिश्रमिक देने का आग्रह किया.

बैठक में निर्मला तिवारी, शकुंतला शर्मा, महाश्वेता बारिया, हीरालाल चौकसे, सुरेश गहरवार, हरिशंकर मिश्रा एवं शशिकांत काले उपस्थित थे.

कामकाजी महिलाएं सम्मानित
सामाजिक संस्था सेन्टर फॉर ह्यïूमेन वेलफेयर एंड डेह्वïलपमेंट द्वारा बेहटा गांव स्थित अमर कॉन्वेंट माध्यमिक शाला में अंतर्राष्टï्रीय महिला दिवस पर कामकाजी एवं श्रमिक महिला जो मेहनत-मजदूरी करके अपने बच्चों को पढ़ाने वाली 50 महिलाओं का शाला ओढ़ाकर सम्मान किया गया.
इस अवसर पर कार्यक्रम में विशिष्टï अतिथि रागिनी ङ्क्षसह, रेखा राजपूत, रवि कला, प्रभावती, अनिता गिरि, रीमा पांडे, पीयूष गिरि, दौलत ङ्क्षसह मेवाड़ा सहित अनेक जनप्रतिनिधि जन मौजूद थे.

संगोष्ठी का आयोजन
नेपाली जनसंपर्क समिति मध्य भारत क्षेत्र, महिला समिति गौतम नगर द्वारा महिला सशक्तिकरण को लेकर आयोजित संगोष्ठी में 200 से अधिक महिलाओं ने भाग लिया. संगोष्ठी में स्वाइन फ्लू के साथ-साथ मौसमी बीमारियों से रोकथाम के लिए जागरूक एवं बचाव के उपाय बताये गए.

शाश्वती 2015
इधर,इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय में Óशाशवती-2015Ó का आयोजन किया गया. जिसकी शुरुआत जार्जुम एते द्वारा राजनीतिक नेतृृत्व की दिशा में पूर्वोत्तर भारत की महिलाओं के प्रयास: पितृृसत्तात्मक अरूणाचल प्रदेश तथा नागालैंड के संदर्भ में संग्रहालय लोकरूचि व्याख्यान से हुई.

ममत्व
वीथी संकुल अन्तरंग प्रदर्शनी भवन में Óममत्वÓ नामक विशेष सुविधा का उद्घाटन किया गया. इसमें संग्रहालय भ्रमण करने आयी माताओं के लिए आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध कराई गयी है.

इसके बाद पद्मश्री शोभना नारायण कथक नृत्य की शानदार प्रस्तुति दी गई.

Related Posts: