23as34निशांत को गले लगाकर रोती रही मां, परिवार में खुशी की लहर,

भोपाल,23 अगस्त नभासं. 10 दिन से अपने दुलारें की याद में तड़प रही मां ज्योति झोपे को जब रायसेन थाने में बेटा निशांत मिला तो उसे गले लगाकर उनके खुशी के आंसू झलक पड़े मानो ज्योति को सारी खुशियां मिल गई थी.

ज्योति काफी देर तक सिर्फ रोती रही और निशांत को दुलार करती रही. आज सुबह रायसेन थाने में जिसने भी यह दृश्य देखा वह भी मां-बेटे के मिलन को बस देखता ही रहा गया. निशांत झोपें के पिता और मां ज्योति को जैसे ही खबर मिली कि निशांत मिल गया है. उनकी खुशी का ठिकाना नही था. मां की ममता अपने दुलारे का और इंतजार नही कर पा रही थी सो वह खुद परिवारजनों के साथ निशांत को लेने रायसेन रवाना हो गई.

Related Posts: