friedaवॉशिंगटन. वैश्विक अभियान ‘गर्ल राइजिंग इंडिया’ पर अपने विचार व्यक्त करते हुए फ्रीडा पिंटो ने कहा कि यह लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए लागों की मानसिकता बदलने और उनमें स्वभावगत बदलाव लाने की एक पहल है।

इस अभियान के प्रति अपना समर्थन जताने के लिए सैकड़ों भारतीय-अमेरिकी यहां एकत्रित हुए थे। फ्रीडा ने पत्रकारों से कहा, ‘हमें उम्मीद है कि इससे स्वभावगत बदलाव के लिए बातचीत शुरू होगी। मानसिकता बदले बिना बदलाव संभव नहीं है।’

Related Posts: