mayawatiलखनऊ 17 जून. बसपा अध्यक्ष मायावती ने भाजपा और समाजवादी पार्टी पर एक दूसरे से मिलकर साम्प्रदायिक तनाव फैलाने की साजिश करने का आरोप लगाया है.

सुश्री मायावती ने आज यहां जानी बयान में कहा कि भाजपा और सपा के नेता जिस प्रकार से एक-दूसरे के खिलाफ घृणा, वैमनस्य एवं साम्प्रदायिकता को बढावा देने वाले बयान आये दिन दे रहे हैं वह ना केवल दुखद और निन्दनीय है बल्कि यह इस आरोप को भी सही साबित करना है कि भाजपा और सपा दोनो एक-दूसरे से नूराकुश्ती का खेल खेलकर साम्प्रदायिक तनाव एवं दंगा फैलाकर दोनो ही पार्टियां अपनी-अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकने का प्रयास कर रही हैं.

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा ने अपने लगभग सवा तीन वर्ष के शासनकाल में नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र की राजग सरकार ने अपने एक वर्ष के शासन में गरीबों, मजदूरों, किसानों, दलितों, पिछडों और धार्मिक अल्पसंख्यकों आदि के हित के लिए कुछ भी कार्य नहीं किया . अपनी गलत नीतियों और कार्यकलापों से उन वर्गों के लोगों को बहुत ज्यादा निराश किया है. बसपा अध्यक्ष ने कहा कि इन दोनों ही सरकारों के प्रास पूर्ण बहुमत है, परन्तु ये दोनो ही अपनी सरकार की शक्ति और ऊर्जा का उपयोग जनहित और जनकल्याण के कार्यों में नहीं करके केवल कुछ मुठ्ठी भर लोगों को ही लाभ पहुंचाने के अनुचित कार्यो में लगी हुई हैं, जिससे हर तरफ लोगों में काफी गहरा असंतोष नजर आता है.

Related Posts: