mayawatiलखनऊ,  मुख्यमंत्री पद के लिए आगे की गयी कांग्रेस नेता शीला दीक्षित पर हमलावर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने कहा है कि दिल्ली सरकार की मुखिया रहने पर दलितों, गरीबों और पिछडों के हितों पर कुठाराघात किया था। सुश्री मायावती ने आज यहां कहा कि कई पार्टियों का चक्कर काटकर कांग्रेस में आने वाले राजबब्बर को अध्यक्ष और दिल्ली में भ्रष्टाचार के कई मामलों की आरोपी श्रीमती शीला दीक्षित को कांग्रेस पार्टी का मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित कर खासतौर पर ब्राह्मण और पिछडों की आँखों में धूल झोंकने जैसा है।

यह उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की ख़स्ताहाली और दिवालियेपन को भी दर्शाता है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में अपना ज्यादातर राजनीतिक जीवन व्यतीत करने वाली और मुख्यमंत्री रहते हुए श्रीमती शीला दीक्षित ने दलितों, पिछड़ों और ग़रीबों के हितों पर कुठाराघात किया था। उन्होंने दावा किया कि इन वर्गों के कल्याण के लिये आरक्षित बजट के धन को डाइवर्ट करके गै़र-जरूरी कार्यों पर ख़र्च कर ग़रीब-विरोधी काम किया था।

Related Posts:

प्राकृतिक संसाधानों की नीलामी जरूरी नहीं
15 जनवरी के आगे भी जारी रह सकता है आॅड ईवन फॉर्मूला : दिल्ली सरकार
कुनबा तो संभाल नहीं पा रहे हैं, प्रदेश क्या संभालेंगे अखिलेश : अमित शाह
उत्तर प्रदेश में दूरदर्शन और आकाशवाणी की सेवाओं का होेगा विस्तार : नायडू
जाति नहीं विचारधारा के आधार पर राष्ट्रपति का चुनाव लड रही हूं : मीरा कुमार
1 दिसंबर को रिलीज नहीं होगी पद्मावती