sharapovaलंदन,   डोपिंग में दोषी पायी गयी रूस की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी मारिया शारापोवा पर अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ ने बुधवार को दो साल का प्रतिबंध लगा दिया शारापोवा को इस साल के आस्ट्रेलियन ओपन में प्रतिबंधित पदार्थ मेल्डोनियम के सेवन के लिये पॉजिटिव पाया गया था.

आईटीएफ ने एक बयान में कहा कि पांच बार की ग्रैंड स्लेम चैंपियन 29 वर्षीय शारापोवा पर यह प्रतिबंध इस वर्ष 26 जनवरी से लागू होगा जिसका मतलब है कि शारापोवा का आस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टरफाइनल में पहुंचने का परिणाम अब रद्द कर दिया जाएगा. इस बीच शारापोवा ने अपने फेसबुक पेज पर कहा, मैं दो साल के इस प्रतिबंध के खिलाफ अपील करूंग.प्रतिबंध का फैसला आने के तुरंत बाद ही शारापोवा ने अपने फेसबुक पेज पर कहा, आईटीएफ ने यह साबित करने के लिये कफी समय और संसाधन लगाया कि मैंने जानबूझकर डोपिंग रोधी नियमों का उल्लंघन किया है जबकि ट्रिब्यूनल का यह निष्कर्ष था कि मैंने ऐसा नहीं किया है.

मैं खेल मध्यस्थता अदालत में इस फैसले के खिलाफ अपील करूंगी. आईटीएफ ने अपने बयान में कहा कि टेनिस डोपिंग रोधी कार्यक्रम की धारा 8.1 के तहत नियुक्त स्वतंत्र ट्रिब्यूनल ने पाया है कि शारापोवा ने इस कार्यक्रम की धारा 2.1 के तहत नियमों का उल्लंघन किया है जिसके चलते उन पर 26 जनवरी 2016 से दो साल का प्रतिबंध लगाया जाता है.

इस प्रतिबंध के कारण शारापोवा अब इस साल की विंबलडन चैंपियनशिप और अगस्त में होने वाले रियो ओलंपिक में हिस्सा नहीं ले पाएंगी. अपने करियर में 35 डब्ल्यूटीए खिताब जीतने वाली शारापोवा ने यह कहकर दुनिया को चौंका दिया था कि वह मेल्डोनियम के सेवन के लिये पॉजिटिव पायी गयी हैं. शारापोवा का कहना था कि वह डायबिटीज के इलाज के लिये एक दशक से यह दवा ले रही थीं.