trainनयी दिल्ली,  रेलवे ने मुंबई से पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार जाने वाले यात्रियों की सुविधा के लिये गर्मियों में 180 से अधिक विशेष गाड़ियाँ चलाने का फैसला किया जिनमें प्रतिदिन एक अनारक्षित गाड़ी शामिल है।

रेलवे बोर्ड में सदस्य (यातायात) मोहम्मद जमशेद ने यहां संवाददाताओं को बताया कि मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस, लोकमान्य टर्मिनस, ठाणे और कल्याण से पूर्वान्चल जाने वाले लोगों की संख्या अत्यधिक होती है। इस क्षेत्र के लिये मुंबई से जाने वाली हर गाड़ी में डेढ़ सौ से दो सौ तक की प्रतीक्षा सूची है।
श्री जमशेद ने कहा कि 19 अप्रैल से 15 जून तक 180 गाड़ियाँ मुंबई से वाराणसी, गोरखपुर, छपरा एवं पटना के लिये संचालित की जाएंगी। इनके अतिरिक्त प्रतिदिन एक अनारक्षित कोचों वाली गाड़ी भी चलायी जाएगी। ये गाड़ियां मुंबई से इटारसी, जबलपुर, वाराणसी के रास्ते चलायीं जाएंगी।

उन्होंने बताया कि पश्चिम बंगाल तमिलनाडु के चुनावों के निपटने के बाद दस मई के बाद 22 रैक और उपलब्ध हो जाएंगे जिनमें से 12 रैक उत्तर रेल और मध्य रेल को दिये जाएंगे जिन्हे विशेष गाड़ियों के तौर पर पूर्वांचल के लिये चलाया जाएगा।
उन्होंने बताया कि विशेष गाड़ियों में किराया डायनेमिक प्रणाली पर आधारित होगी लेकिन यह सामान्य किराये से बहुत मामूली ही अधिक होगा। हालांकि अनारक्षित कोच वाली गाड़ी में किराया सामान्य गाड़ियों के समान ही रहेगा।

Related Posts: