modiजम्मू/जयपुर. संसद के मानसून सत्र के तूफानी होने की पूरी पृष्ठभूमि बन गई है. इसकी काफी कुछ तस्वीर शुक्रवार को तब साफ हो गई, जब पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि किसानों की एक इंच जमीन लेने नहीं देंगे और फिर नरेंद्र मोदी ने कहा कि वह विपक्ष से मुकाबले के लिए तैयार हैं.

राहुल के उस स्टेटमेंट को विपक्ष की रणनीति का केंद्र माना जा रहा है, जिसमें उन्होंने किसानों के बीच जाकर कहा कि मोदी के 56 इंच के सीने को हम 5.6 इंच कर देंगे.

Related Posts: