28nn1भोपाल, प्रदेश में निवेश को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज जापान और दक्षिण कोरिया की दस-दिवसीय यात्रा के लिए रवाना हुए.स्टेट हेंगर पर मुख्यमंत्री चौहान को स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, श्रम, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अंतर सिंह आर्य, परिवहन मंत्री भूपेन्द्र सिंह, अनुसूचित जनजाति कल्याण मंत्री ज्ञान सिंह, नर्मदा घाटी विकास राज्य मंत्री लालसिंह आर्य, महापौर आलोक शर्मा सहित जन-प्रतिनिधि और कार्यकर्ताओं ने विदाई दी.

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश निवेश के मामले में देश के प्रथम पाँच राज्य में आता है.यात्रा के दौरान वह प्रदेश में निवेश के लिए निवेशकों, वित्तीय संस्थानों के प्रमुखों से चर्चा करेंगे.उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में निवेश का बेहतर वातावरण बना है.जापान और दक्षिण कोरिया दोनों देशों से भारत के प्राचीन, ऐतिहासिक और सांस्कृतिक संबंध हैं.इन देशों के निवेशकों के आने से यह संबंध और मजबूत होंगे.दोनों देशों में प्रदेश की निवेश संभावनाओं पर रोड शो किए जाएँगे.

उन्होंने बताया कि प्रदेश में जापानी और साउथ ईस्ट एशिया की कम्पनियों के लिए अलग से क्लस्टर बनाए जाएँगे.मुख्यमंत्री की यह यात्रा कल 29 सितम्बर को जापान के टोक्यो शहर से शुरू होगी.इस दौरान उनके साथ उद्योग मंत्री श्रीमती यशोधराराजे सिंधिया, राज्य शासन के वरिष्ठ अधिकारी और प्रमुख उद्योगपति होंगे.