मोहाली,

श्रीलंका के खिलाफ सीमित ओवरों की सीरीज के लिए पहली बार भारतीय टीम में शामिल किये गये युवा आलराउंडर वाशिंगटन सुंदर ने कहा है कि उन्हें अपनी क्षमता पर पूरा विश्वास है और इसी कारण वह भारतीय टीम में जगह बनाने में सफल हुए हैं।

18 वर्षीय तमिलनाडु के आलराउंडर सुंदर को श्रीलंका के खिलाफ होेने वाली ट्वंटी-20 सीरीज के लिए टीम में शामिल किया गया था।लेकिन केदार जाधव के चोटिल होने के कारण उन्हें वनडे टीम में भी शामिल किया गया है।

सुंदर धर्मशाला में हुए पहले वनडे में अंतिम एकादश में शामिल नहीं किये गये थे।
लेकिन उन्हें उम्मीद है कि वह बुधवार को होने वाले दूसरे वनडे में अंतिम एकादश में जगह बनाने में सफल रहेंगे।

सुुंदर ने मैच की पूर्वसंध्या पर संवाददाता सम्मेलन में कहा,“ मैं हमेशा अपनी क्षमता पर विश्वास करता हूं और इसी कारण मैं टीम में हूं।इसके लिए मैंने अपनी फिटनेस और खेल पर कड़ी मेहनत की है।

अभ्यास के समय में मैं गेंदबाजी अधिक करता था और बल्लेबाजी में भी अतिरिक्त समय देता था।लेकिन राष्ट्रीय टीम में शामिल होेने के यह काफी नहीं था, इसलिए मैंने अपने खेल के सभी पहलूओं पर कड़ी मेहनत की है।”

सुंदर ने गत वर्ष ही प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण किया था और अब तक वह 12 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 532 रन बनाने के अलावा 30 विकेट भी लिए हैं।सुंदर ने हाल ही में यो यो टेस्ट पास किया है जिसकी बदौलत वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण करने में सफल हो पाए हैं।