नागपुर ,

टेस्ट विशेषज्ञ बल्लेबाजों मुरली विजय(128) और चेतेश्वर पुजारा(नाबाद 121) के जबरदस्त शतकों की बदौलत भारतीय क्रिकेट टीम ने यहां श्रीलंका के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन शनिवार को अपनी पहली पारी में दो विकेट पर 312 रन का मजबूत स्कोर खड़ा कर 107 रन की अहम बढ़त हासिल कर ली।

भारतीय टीम ने अपनी दूसरी पारी की शुरूआत में कल पहले दिन ओपनर लोकेश राहुल(सात) का विकेट सस्ते में गंवाया था लेकिन उसके बाद मुरली और पुजारा ने टिककर जब खेलना शुरू किया तो दूसरे दिन दोनों बल्लेबाज़ क्रीज़ पर आखिर तक डटे रहे और श्रीलंकाई टीम के गेंदबाजों की जमकर धुनाई की जो पूरे दिन में 305 रन लुटाकर एकमात्र विकेट ही हासिल कर पाये।

मुरली और पुजारा ने दूसरे विकेट के लिये 209 रन की दोहरी शतकीय साझेदारी की और आराम से भारत की पहली पारी को आगे बढ़ाया।विजय ने टेस्ट करियर का 10वां शतक बनाया और 221 गेंदों की पारी में 11 चौके और एक छक्का जड़कर 128 रन बनाये।

उनके साथ दूसरे छोर पर श्रीमान भरोसेमंद कहे जाने वाले पुजारा ने 284 गेंदों की पारी में 13 चौके लगाकर नाबाद 121 रन की पारी खेली।श्रीलंका के हाथ में पूरे दिन एकमात्र विकेट ही आया जब भारत को 200 पार पहुंचाकर विजय रंगना हेरात की गेंद पर दिलरूवान परेरा को कैंच दे बैठे।

वह 76वें ओवर में दिन के दूसरे और दिन के एकमात्र बल्लेबाज़ के रूप में आउट हुये।
विजय के अाउट होने के बाद कप्तान विराट कोहली मैदान पर आये और उन्होंने भी आत्मविश्वास के साथ पारी को आगे बढ़ाया और दिन का खेल पूरा होने से कुछ गेंदे पहले अपना अर्धशतक भी पूरा कर लिया।

विराट ने 70 गेंदों में छह चौके लगाकर नाबाद 54 रन बनाये और पुजारा के साथ तीसरे विकेट के लिये 96 रन की अविजित साझेदारी भी निभाई जो दिन की दूसरी बड़ी साझेदारी रही।यह कप्तान विराट का 15वां टेस्ट अर्धशतक है।

Related Posts: