नयी दिल्ली,

‘मेक इन इंडिया’ के तहत देश में मोबाइल और टेलीकॉम उपकरणों के निर्माण में तेजी लाने के बावजूद इस क्षेत्र में चीन निर्मित उत्पादों की हिस्सेदारी में बढोतरी का रुख बना हुआ है।

देश में मोबाइल हैंडसेट निर्माण क्षेत्र की समस्याओं पर ब्राॅडबैंड इंंडिया फाेरम द्वारा आज जारी रिपोर्ट में यह खुलासा किया गया है। आईआईएम कलकत्ता और थाॅट आर्बिट्रेेज रिचर्स इंस्टीट्यूट (टारी) ने तैयार की है। भारत में मोबाइल फोन और टेलीकम्युनिकेशन उपकरणों के निर्माण को प्रभावित करने वाले कारकों पर ध्यान केन्द्रित किया गया है।

Related Posts: