sushmaमास्को,  भारत ने ब्रिक्स समूह के सदस्य देशों के बीच परस्पर व्यापारिक आदान प्रदान बढ़ाने में आने वाली संरचनात्मक अड़चनों को दूर करने पर जोर देते हुये समूह के देशों को ‘मेक इन इंडिया’ और ‘स्किल इंडिया’ सहित सरकार के प्रमुख कार्यक्रमों में निवेश की भागीदार के लिये आमंत्रित किया है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज यहां ब्रिक्स देशों के उद्योग मंत्रियों की बैठक को संबोधित कर रही थीं. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने कारपोरेट कर में कमी लाने का स्पष्ट कार्यक्रम घोषित किया है,

ऐसे में भारत में व्यापार और निवेश के क्षेत्र में व्यापक संभावनायें मौजूद हैं. ब्रिक्स देशों में ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं.  इस दस्तावेज में व्यापार सुविधा, लघु और मध्यम स्तर के उद्योगों के बीच सहयोग, औद्योगिक विकास, कृषि, दूरसंचार, ऊर्जा सुरक्षा, पर्यटन और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी सहित विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े मुद्दों के बारे में चर्चा की गई है.

Related Posts: