vinodभोपाल, अगर आपको कामयाब होना है तो बहुत मेहनत करनी होगी, क्योंकि मेहनत का कोई विकल्प नहीं होता है. यह कहना है देश के जाने—माने गायक विनोद राठौर का. वे रविवार कोमध्य—प्रदेश सिंगिंग प्रतियोगिता सुर—श्री के ग्रांड फाईनल में बतौर जज भाग लेने भोपाल आये थे. जहां उन्होंने बताया कहा कि आप छोटे शहर से हो या बड़े से आपको मेहनत तो करनी ही होगी.

अमेरिका में पुराने गायकों के लोग दिवाने: मीडिया से बातचीत के दौरान विनोद राठौर ने कहा कि इस संगीतमय सफर में उन्होंने अमेरिका का कई बार दौरा किया. जहां पर उनको काफी अच्छे अनुभव मिले है. विनोद ने बताया कि वहां पर भारतीय गानों को सुनने वालों की संख्या ज्यादा है. मगर वे लोग हमारे नए गानों की वजह पुराने गानों को सुनना पसंद करते है. अमेरिका के लोगों के बीच में हमारे किशोर कुमार, लता मंगेशकर जैसे सिंगर बहुत प्रसिद्ध है.

बहुत है टैंलेट है एमपी में
विनोद ने बताया कि एमपी में गायिकी की क्षेत्र में बहुत टैंलेट है. इतनी कम उम्र से बच्चें सीनियर गायकों को पीछे छोड़ रहे है, यहां गजब की बात है. उन्होंने कहा कि अगर हम को एमपी का नाम और भी कला के क्षेत्र में उच्चा करना है तो बच्चों को कम उम्र से ही बड़े मंच उपलब्ध करवाने होंगे, ताकि वे अपने टैंलेट को निखार सकें.

Related Posts:

मीणा समाज के मान-सम्मान के लिए सदैव प्रयास करूँगा
भाजपा अब विधानसभा को भी चलाने लगी रिमोट से
75 फीसदी अंक लाने वाले अजा-जजा छात्रों को मिलेगा लैपटाप
5 सितंबर को रात एक बजे तक खुला रहेगा बिड़ला मंदिर
नौकरी से निकाले गए संविदा कर्मियों ने मांगी भीख
नए नोटों के द्वारा पहला भ्रष्टाचार : माध्यामिक शिक्षा मंडल के अधिकारी 25 हजार ले...