Deepika Padukoneस्टारडम की दौड़ में दीपिका पादुकोण की यात्रा भले ही धीमी और स्थिर रही लेकिन अभिनेत्री का कहना है कि उन्हें अपने कॅरियर को लेकर कभी असुरक्षा की भावना महसूस नहीं हुई. सुजीत सरकार की फिल्म ”पीकू” की अभिनेत्री ने कहा कि वह हमेशा से ही अपने पेशेवर कमियों की जगह पर अपनी व्यक्तिगत कमियों को लेकर चिंतित रही हैं.

दीपिका ने बताया, ”शुरू में मुझे कभी भी असुरक्षा की भावना नहीं रही और अब भी मेरे साथ ऐसा कुछ नहीं हैं. या फिर मैं यह कह सकती हूं कि जब मैंने इसे कॅरियर शुरू किया था तब संभवत: मुझमें जो असुरक्षा थी और अभी भी यह मुझमें बरकरार है. इस अर्थ में कहें तो कुछ भी बदला नहीं है.”अभिनेत्री ने कहा कि हर किसी अपनी चिंताओं और असुरक्षा की भावना से निपटना होता है. लेकिन इसका मेरे कॅरियर से कुछ लेना देना नहीं है. अभिनेत्री ने बीते दो साल में ”चेन्नई एक्सप्रेस”, ”ये जवानी है दिवानी”, ”राम लीला” जैसी एक के बाद एक हिट फिल्में दी हैं. ”कॉकटेल” की स्टार बॉलीवुड के मौजूदा दौर का आनंद ले रही हैं क्योंकि वे ऐसी फिल्मों का हिस्सा बन रही हैं जो विषय और अभिनय के मामले में प्रमुख है.

Related Posts: