हो चि मिन्ह सिटी,

पांच बार की विश्व चैंपियन, ओलम्पिक पदक विजेता मुक्केबाज और राज्यसभा सांसद एमसी मैरीकॉम ने अपना तूफानी प्रदर्शन जारी रखते हुए 48 किग्रा लाइट फ्लाइवेट वर्ग में कोरिया की किम हयांग मी को 5-0 से पीटकर बुधवार को पांचवीं बार एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया।

34 वर्षीय मैरीकॉम ने इस प्रतियोगिता में इससे पहले चार स्वर्ण और एक रजत पदक जीता था।फाइनल में उन्हाेंने कोरियाई मुक्केबाज को पूरी तरह धो दिया।मैरीकॉम ने 5-0 के स्कोर से जीत हासिल की।पूरे मैच में वह प्रतिद्वंदी मुक्केबाज पर हावी रहीं।48 किग्रा वर्ग में यह किसी भारतीय मुक्केबाज का पहला एशियाई स्वर्ण पदक है।

एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप में मैरीकॉम का यह छठा पदक है।मैरीकाॅम ने इससे पहले 2003, 2005, 2010 और 2012 में इस टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीते थे।2008 में उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा था।राज्यसभा सांसद मैरीकॉम पांच साल 51 किलोग्राम में भाग लेने के बाद 48 किलोग्राम वर्ग में लौटी थीं।

Related Posts: