गोल्ड कोस्ट,

भारत की स्टार मुक्केबाज़ एमसी मैरीकॉम ने उम्मीद और अपने स्टारडम के मुताबिक प्रदर्शन करते हुये यहां बुधवार को 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में महिला मुक्केबाजी की 45-48 किग्रा भार वर्ग स्पर्धा के फाइनल में प्रवेश कर लिया जबकि इन खेलों के मुक्केबाजी मुकाबलों में भारत के कुल नौ पदक पक्के हो चुके हैं।

35 वर्ष की उम्र में राष्ट्रमंडल खेलों में पदार्पण कर रहीं ओलंपिक पदक विजेता मैरीकॉम ने सेमीफाइनल में अपनी विपक्षी श्रीलंका की अनुशा दिलरूक्शी कोडिथुवाकू को एकतरफा मुकाबले में 5-0 से पराजित किया।

मैरी के फाइनल में पहुंचने के अलावा भारत के आठ पुरूष मुक्केबाज़ों अमित पंघल(46-49 किग्रा), गौरव सोलंकी(52), नमन तंवर(91), हुसामुद्दीन मोहम्मद(56), मनोज कुमार(69), विकास कृष्णन(75), सतीश कुमार(91+) और मनीष कौशिक (60) सेमीफाइनल में जगह बनाकर देश के लिये पदक पक्के कर चुके हैं।

मुक्केबाजी मुकाबलों में गुरूवार को विश्राम का दिन है और शुक्रवार को सभी सेमीफाइनल मैच खेले जाएंगे जिनसे तय होगा कि मैरी के अलावा कितने और मुक्केबाज़ स्वर्ण पदक मुकाबले में पहुंचते हैं।
भारत ने पिछले राष्ट्रमंडल खेलों में चार रजत और एक कांस्य सहित पांच पदक जीते थे लेकिन गोल्ड कोस्ट में इस संख्या से काफी आगे निकल गया है।

Related Posts: