modiनयी दिल्ली,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज भारत और श्रीलंका की मैत्री को और मज़बूत बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के सिलसिले में जाफना में आयोजित समारोह में सूर्य नमस्कार से पूरी दुनिया में सामाजिक सद्भाव, पूर्ण स्वास्थ्य और बेहतर जीवनशैली अपनाने का सन्देश गया है। श्री मोदी ने यहाँ वीडियो कांफ्रेस के जरिये जाफना के दुर्रैप्पा स्टेडियम में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के सम्बन्ध में आयोजित समारोह को समबोधित करते हुए यह बात कही।

श्री मोदी और श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सीरीसेना ने इस पुनर्निर्मित स्टेडियम का उद्घाटन करते हुए इसे श्रीलंका की जनता को समर्पित किया। भारत के सहयोग से बने इस स्टेडियम के पुनर्निर्माण पर सात करोड़ रुपये खर्च हुए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 21 जून को पुरी दुनिया अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मानाने जा रही है, उसके 72 घंटे पहले इस समारोह के शुभारम्भ के अवसर पर इस स्टेडियम में उपस्थित लोगों ने सूर्य नमस्कार कर संसार में सामाजिक सौहार्द, समरसता और स्वास्थ्य को लेकर सचेत रहने का सन्देश दिया है।

श्री मोदी ने कहा कि श्रीलंका ने संयुक्त राष्ट्र में पूरी दुनिया में योग दिवस मनाने के प्रस्ताव का सबसे पहले समर्थन किया था। उन्होंने कहा कि भारत और श्रीलंका के सम्बन्ध केवल सरकार के स्तर पर नहीं बल्कि इतिहास, संस्कृति, भाषा और कला के स्तर पर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि भारत, श्रीलंका को आर्थिक रूप से समृद्ध देखना चाहता है और इसके लिए उसे सहायता देने को तत्पर है।

Related Posts: