uma-bhartiनई दिल्ली. चैनल द्वारा जारी एक बयान के अनुसार केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा पुनर्जीवन मंत्री उमा ने कहा कि फिर से राज्य का मुख्यमंत्री बनने की उनकी कोई महत्वाकांक्षा नहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के बारे में भाजपा नेता अरुण शौरी के एक चर्चित बयान के बारे में पूछे जाने पर उमा ने कहा कि इन तीनों नेताओं का उनके प्रतिद्वंद्वी भी सम्मान करते हैं।

शौरी ने कहा था कि मोदी, शाह और जेटली की तिकड़ी पार्टी और सरकार दोनों चला रही है। उमा ने कहा, यदि यह त्रिमूर्ति सरकार और पार्टी नहीं चलाएगी, तो फिर कौन चलाएगा ? बल्कि मैं तो कहूंगी कि वे ब्रह्मा, विष्णु और महेश हैं। उमा ने कहा कि गंगा पुनर्जीवन का काम सौंपे जाने के बाद अब वह नरम पड़ गई हैं और वाटरब्रैंड हो गई हैं। उन्होंने कहा, पहले मैं फायरब्रैंड थी, अब मैं वॉटरब्रैंड हो गई हूं। प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए उमा ने कहा कि वह न सिर्फ पार्टी नेताओं और मंत्रियों में अनुशासन लेकर आए हैं, बल्कि नौकरशाहों को भी अनुशासित किया है।

Related Posts: