वाशिंगटन,

अमेरिका ने कहा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से यरूशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता दिए जाने के बाद अन्य देशों के बारे में ऐसी कोई कोई जानकारी नहीं है जिससे पता चले कि वह भी उनके इस कदम के साथ है।

अमेरिकी राष्ट्रपति कार्यालय व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा सैंडर्स ने संवाददाताओं को बताया कि फिलहाल इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि कितने देश यरूशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देने की योजना बना रहे हैं।

गौरतलब है कि यरूशलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता दिए जाने के श्री ट्रंप के फैसले की दुनिया के कई देशों ने आलोचना की है।संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने कहा कि ‘ट्रंप का बयान इजरायल और फिलीस्तीन के बीच शांति की संभावनाओं को बर्बाद कर देगा।

फ्रांसीसी राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने कहा कि ‘ट्रंप का फैसला अफसोसजनक’ है।चीन और रूस ने भी चिंता जताते हुए कहा है कि इससे इलाके में अंशांति फैलेगी।ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे कहा कि ‘यरूशलम की स्थिति अंततः एक साझा राजधानी के रूप में तय की जानी चाहिए।

Related Posts:

26/11 हमले में पाक पूरी तरह शामिल: पाक के एफआईए डीजी ने खोली पोल
नए साल के जश्न में डूबी दुनिया
भारत की दो टूक, पाकिस्तान करे कार्रवाई
जापान के दक्षिण क्षेत्र को आपदा प्रभावित घोषित करेंगे आबे
मानव रहित एंटेयर्स रॉकेट अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र के लिए रवाना
इंडोनेशिया में ज्वालामुखी विस्फोट से हजाराें पर्यटक फंसे