bpl4भोपाल,  कल देर रात हुए भारत टॉकीज रेलवे ओवरब्रिज हादसे के बाद मंत्री के घर का घेराव करते हुए युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं जहां जमकर नारेबाजी की वहीं भारी पुलिस की मौजूदगी में मंत्री के इस्तीफे की मांग को लेकर पत्थरबाजी भी की.

सोमवार की रात मारे गए दो लोगों की घटना के बाद आज युवा कांग्रेस ने लोक निर्माण मंत्री सरताज सिंह के बंगले पर युवा कांग्रेस नेताओं ने प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों ने मौतों के लिए जिम्मेदार न केवल पीडब्ल्यूडी मंत्री के इस्तीफे की मांग बल्कि मुख्यमंत्री से भी पद से इस्तीफा देने के नारे लगाए. वहीं आज रेलवे ओवरब्रिज हादसे में नगर निगम और लोक निर्माण विभाग के बीच जिम्मेदारी को लेकर टालमटोल के बयान सामने आ रहे हैं. नगर निगम की ओर से महापौर आलोक शर्मा ने जहां पुल की मरम्मत नहीं होना हादसे की वजह बताते हुए इसके लिए लोक निर्माण विभाग को जिम्मेदार ठहराया है. लेकिन लोक निर्माण मंत्री सरताज सिंह पहले ही पुल के स्लैब गिरने के लिए नगर निगम को जिम्मेदार कह चुके हैं.

जिम्मेदारी को लेकर टालमटोल
गौरतलब है कि चालीस साल पहले बने इस पुल की हालत कई सालों से खराब है. कई जगह से पुल में दरारें हैं तो मुंडेर तो कई स्थानों से जर्जर हो गई है. प्लास्टर तो आए दिन टपकता रहता है. अब पुल की मरम्मत कौन करे, यह तय नहीं हो पाया है जिससे सोमवार की रात यह हादसा हो गया. अभी भी दोनों एजेंसियां एकदूसरे पर जिम्मेदारी डाल रही हैं. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक बजरिया थाना से पहले हबीबिया स्कूल के सामने बिजली का खंबा अचानक ब्रिज की रैलिंग पर जा गिरा. जिससे यह हादसा हुआ। खंबा गिरने से ब्रिज की रैलिंग व फुटपाथ का वह हिस्सा पुल के नीचे नाले में जा गिरा, जिस पर मजदूर तबके के लोग सो रहे थे.

फुटपाथ गिरते ही पूरे क्षेत्र में हड़कंप की स्थिति बन गई. आसपास के सैकड़ों लोग जमा हो गए, लेकिन रात होने की वजह से वे नाले में गिरे फुटपाथ के हिस्से को हटा नहीं पा रहे थे. रात करीब 2.15 बजे एंबुलेंस और जेसीबी पहुंचने के बाद राहत कार्य शुरू हो सका. जेसीबी से मलबा हटाने पर एक पुरुष व एक महिला का शव निकाला जा सका. अंधेरा होने के कारण जेसीबी से मलबा हटाने में भी खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था. मौके पर मौजूद टीटी नगर सीएसपी आरडी भारद्वाज ने दो लोगों की मौत की पुष्टी करते हुए तीन से चार लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका जताई है.

Related Posts: